इन राज्यों में 12 मई तक भारी बारिश का अलर्ट, 6 राज्यों में हीट वेव की चेतावनी

नई दिल्ली-बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान ‘आसानी’ से एक बार फिर देशभर का मौसम बदलने लगा है। आज चक्रवात ‘असानी’ (Cyclone Asani) के उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ने और ओडिशा तट से दूर बंगाल की खाड़ी के उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है, इसके चलते पश्चिम बंगाल, ओडिशा और आंध्र प्रदेश जैसे राज्यों में बारिश और तेज हवाओं के चलने का अलर्ट जारी किया गया है।इसका असर तूफान का असर छग, झारखंड और बिहार में भी देखने को मिल सकता है। मौसम विभाग (IMD) की मानें तो 10 मई को ओडिशा के पुरी-गंजाम के समुद्री तटों से तूफान टकरा सकता है। जबकि, 11 और 12 मई को इसके बिहार में पहुंचने के आसार है। असानी के प्रभाव से ओडिशा और बंगाल में आंधी-बारिश की चेतावनी जारी की है।पश्चिम बंगाल में मंगलवार को तेज हवाएं और बारिश की संभावना है।पोर्ट ब्लेयर से करीब 380 किलोमीटर दूर पश्चिम में गहरे दवाब का क्षेत्र चक्रवात असानी के बदलने से बंगाल, आंध्र प्रदेश और ओडिशा में असर देखने को मिलेगा और तेज बारिश के साथ आंधी-तूफान की आशंका है।

मौसम विभाग (Meteorological Department) के मुताबिक,10, 11 और 12 मई को तटीय ओडिशा में तेज हवा के साथ भारी बारिश की आशंका को देखते हुए सभी बंदरगाहों पर अलर्ट जारी कर दिया गया है। 9 से 11 मई तक मछुआरों को समुद्र की ओर नहीं जाने की सलाह दी गई है।तूफान के अलर्ट के बीच बंगाल सरकार ने किसानों के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है और आंध्र प्रदेश और बंगाल के मछुआरों को भी समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है। 10 मई को समुद्र में हवा की गति के बढ़कर 80 से 90 किलोमीटर प्रति घंटा होने के आसार है।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों में हुई बारिश के कारण मौसम में नमी बढ़ी है।अगले तीन से चार दिनों तक ऐसा ही मौसम बने रहने की संभावना है। 13 मई तक झारखंड के विभिन्न इलाकों में बारिश होती रहेगी और इस दौरान गर्जन भी हो सकता है। त्तर प्रदेश के पूर्वी जिलों में रविवार को हल्की बारिश हुई। 11 और 12 मई को पूर्वी उत्तर प्रदेश में चमक के साथ तेज तूफानी हवाओं की चेतावनी भी जारी की गई है। पूर्वी उप्र में 14 मई तक बूंदाबांदी की संभावना है।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 11 मई ओडिशा के तटीय और आसपास के जिलों में मध्यम से भारी वर्षा और 50 से 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है। गजपति, गंजम, पुरी, खुर्दा, कटक और जगतसिंहपुर जिलों में 10 से 12 मई के बीच बारिश होगी। ODRAF की टीमों को पुरी, सतपाड़ा, अस्टारंगा, कृष्णप्रसाद, जगतसिंहपुर, भद्रक, महाकालपारा, राजनगर और गंजम में तैनात किया गया है।

बिहार में भी अलर्ट जारी

विभाग की मानें तो इस पहले प्री मानसूनी चक्रवात के असर से 11 और 12 मई को बिहार के पूर्वी और दक्षिणी भाग में आंधी और बारिश के आसार है। पूर्वी और पश्चिमी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, मधुबनी, सुपौल, अररिया, पूर्णिया, किशनगंज और कटिहार जिले में 11 और 12 को गरज के साथ आकाशीय बिजली का येलो अलर्ट जारी किया है।उत्तर और दक्षिण बिहार के 10 जिलों आंधी-बारिश की संभावना है और पूर्वी और दक्षिणी भाग में आंशिक बादल छाये रहेंगे। हवा की रफ्तार 20 से 30 किमी प्रतिघंटे रहेगी।

इन राज्यों में लू का अलर्ट

मौसम विभाग के अनुसार, राजस्थान, उत्तर मध्य महाराष्ट्र, विदर्भ, पश्चिम मध्य प्रदेश, दक्षिण हरियाणा-दिल्ली और पंजाब में लू का असर रहेगा। IMD ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर में अगले 5 तक हीटवेव (Heat Wave) की चेतावनी दी है। पश्चिम मध्य प्रदेश, राजस्थान के कुछ इलाकों में 9 से 12 मई तक हीटवेव का अलर्ट है वही दक्षिण हरियाणा-दिल्ली और पंजाब में 10 से 14 मई के बीच हीटवेव की आशंका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *