बोले अमर…तैयार होगा बिलासपुर का नया इकोसिस्टम…इस योजना से मिलेगा युवाओं को रोजगार…शहर करेगा तेजी से विकास

BHASKAR MISHRA

बिलासपुर… पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने फेसबुक लाइव पर जनता को संबोधित किया। उन्होने सशक्त युवा समृद्ध भारत विषय पर जनता से’संवाद’ किया। इस दौरान नगर विधायक ने शहर की जनता से शहर के विकास और तरक्की को लेकर सुझाव मांगे। अमर ने कहा भारत दुनिया का सबसे बड़ा युवाओं का देश है। युगपुरुष स्वामी विवेकानंद ने युवा शक्ति का आह्वान करते हुए -‘उठो जागो और लक्ष्य की ओर भागों ‘का नारा दिया है। सशक्त युवा ही समृद्ध भारत की परिकल्पना को साकार कस सकता है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

फेसबुक लाइव कार्यक्रम में अमर अग्रवाल ने बताया कि देश की समृद्धि और विकास के लिए औद्योगिक उत्पादन और पूंजी निवेश पर बढ़ावा दिए जाने से रचनात्मक विकास में तेजी आएगी। किसी राष्ट्र का संपूर्ण और समग्र विकास तब तक संभव नही है जब तक राष्ट्र का युवा सुशिक्षित और सुसंस्कृत नहीं हो जाता। युवा शब्द अपने आप में ऊर्जा और आंदोलन का प्रतीक है।  युवा शक्ति की अपार ऊर्जा को रचनात्मक दिशा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में स्टार्टअप कार्यक्रम आरंभ किया।

युवाओं की नई सोच को बढ़ावा देने के लिए मेक इन इंडिया कार्यक्रम चलाया। आज स्टार्टअप के क्षेत्र में तरक्की कर भारत दुनिया का तीसरा प्रमुख देश हो गया है। कौशल विकास के साथ वित्तीय प्रबंधन की समुचित व्यवस्था के लिए कौशल विकास योजना आरंभ की गयी है। मुद्रा लोन योजना के तहत 10 लाख रुपए का लोन भारत सरकार देती है। पिछले 10 सालों से ऐसे सैकड़ो कार्यक्रम आरंभ किए गए जिससे युवाओं का सशक्तिकरण सुनिश्चित हो सके।

            अमर अग्रवाल ने कहा कि 5 वर्षों मे छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार ने युवाओं को छलने का काम किया है। पीएससी और व्यापम में घोटाले से युवाओं में असंतोष है। भाजपा ने घोषणा पत्र के अनुसार पारदर्शिता के साथ पीएससी और व्यापम परीक्षाओं के आयोजन को लेकर आवश्यक कदम उठाए हैं।  यूपीएससी की तर्ज पर राज्यसेवा भर्ती परीक्षा के आयोजन और परीक्षा प्रणाली में सुधार के लिए रिफार्म कमीशन का गठन किया गया है। युवा हितों से खिलवाड़ करने वालों को सबक मिल सके इसके लिए पीएससी की परीक्षा में गड़बड़ी के मामले को सीबीआई को सौंप दिया गया है।

          अमर ने बताया कि कौशल विकास और वित्तीय प्रबंधन की सुविधा के साथ संस्कृति, शिक्षा, खेलकूद को बढ़ावा देने के लिए 125 यूथ क्लब का गठन शहर स्तर पर किया गया है । युवाओं की टीम नया इकोसिस्टम तैयार कर शहर के चहुमुंखी विकास पर काम करेगी। लाइव कार्यक्रम के दौरान युवाओं ने शहर विकास को केन्द्र में रखकर जरूरी सुझाव भी दिये।

 अमर ने एक सुझाव पर बताया कि दुर्ग के बाद  छत्तीसगढ़ का दूसरा एमएसएमई सेंटर बिलासपुर  में प्रस्तावित है।  2018 में केंद्र सरकार ने  बिलासपुर में एमएसएमई सेंटर बनाने का ऐलान करते हुए 200 करोड रुपए का प्रावधान किया था। दो महीने पहले ही कोनी आईटीआई कैंपस में 20 एकड़ खाली जमीन सेंटर के लिए संबंधित विभाग को दी जा चुकी है। टेक्नोलॉजी केंद्र के खुल जाने से राज्य के लघु उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा । युवाओं को अधिक से अधिक रोजगार के अवसर मिलेगा।

close