अमर ने दंगे पर एक तरफा कार्रवाई को बताया गलत..सरकार पर लगाया हिंसा कराने का आरोप ..स्थानीय विधायक,वन मंत्री का मांगा इस्तीफा

बिलासपुर— पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने कवर्धा विधायक और प्रदेश के वन मंत्री पर साम्प्रदायिक दंगा भड़काने वाले लोगों को शह देने का आरोप लगाया है। अमर अग्रवाल ने वन मंत्री मोहम्मद अकबर को तत्काल बर्खास्त किए जाने की मांग की है। भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कवर्धा साम्प्रदायिक हिंसा पर चिन्ता जाहिर करते हुए निर्दोष लोगों पर दर्ज कानूनी कार्यवाही की निन्दा की है। अमर अग्रवाल ने यह बातें भारतीय जनता युवा मोर्चा के पुराना बस स्टैण्ड स्थित डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी चौक पर आयोजित पुतला दहन कार्यक्रम के दौरान कही। 
 
              भाजपा युवा बिग्रेड ने पुराना बस स्टैण्ड स्थित श्यामा प्रसाद चौक पर सीएम और वन मंत्री का पुतला चलाया। इस दौरान पुूर्व मंमत्री अमर अग्रवाल ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ एक शांत प्रिय राज्य है। राज्य में अशांति का वातावरण निर्मित कर कांग्रेसी जहर घोलने का काम कर रहे हैं। कवर्धा में जिस प्रकार सांम्प्रदायिक दंगे हुए है उसमें स्थानीय विधायक और प्रदेश के मंत्री मोहम्मद अकबर का हाथ है।
 
              सरकारी तंत्र का पूरा उपयोग मंत्री के इशारे पर किया जा रहा है। इसमें प्रदेश के मुख्यमंत्री का भी वरदहस्त है। दंगे में बहुसंख्यक लोगों के उपर एकतरफा कार्यवाही हो रही है। दंगे में शामिल विशेष जाति के लोगों को बचाया जा रहा है…मामला गंभीर है। अग्रवाल ने कहा कि जिस उद्देश्य और मकसद से तत्कालीन प्रधानमंत्री भारत रत्न स्व.अटल बिहारी बाजपेयी ने छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण किया। वह कांग्रेस सरकार में पूरी तरह से विखरता नजर आ रहा है। कांग्रेस सरकार प्रदेश में जहर घोलने का काम कर रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जिस उत्तर प्रदेश में गये है यदि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री कवर्धा आ जायेंगे तो भूपेश बघेल सोचिए क्या होगा।
 
                       सांसद अरूण साव ने भी प्रदेश सरकार पर प्रदेश की शांत प्रिय जनता के बीच जहर घोलने का आरोप लगाया। उन्होने कहा कि कांग्रेस हर मोर्चे पर विफल हो चुकी है। लोगों का ध्यान बंटाने और विशेष समुदाय के लोगों को खुश करने के लिए कवर्धा जैसे साम्प्रदायिक घटना को अंजाम दिया जाता है। घटना में बहुसंख्यक लोगों के उपर प्रशासनिक दबाव डालकर बेकसुर लोगों को फंसाया जा रहा है। उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर 70 से ज्यादा बहुसंख्यक बेगुनाह लोगों को फंसाय गया है। साव ने प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर प्रदेश का वातावरण खराब किया जाएगा तो भारतीय जनता पार्टी सड़क पर उतरकर उग्र आंदोलन करेगी।
 
               भाजपा जिलाध्यक्ष ने कवर्धा में सांम्प्रदायिक दंगा भड़काने के लिए कांग्रेस सरकार को जिम्मेदार ठहराया। घटना की निंदा करते हुए कहा कि कवर्धा में साम्प्रदायिक दंगा भड़काने  और विशेष समुदाय के लोगों को सह देना..उनके खिलाफ अभी तक कोई कार्यवाही नही करना।  इससे स्पष्ट होता है कि दाल में जरूर काला है।
 
               इस दौरान भाजपा युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष निखिल केशरवानी ने भी पुतला दहन कार्यक्रम को संबोधित किया। दंगे के लिए प्रदेश सरकार को जिम्मेदार ठहराया।  युवा मोर्चा के जिला प्रभारी दीपक सिंह ठाकुर ने भी कवर्धा साम्प्रदायिक दंगा के लिए प्रदेश की कांग्रेस सरकार को जिम्मेदार बताया।
 
          पुतला दहन को भाजपा जिला उपाध्यक्ष किशोर राय, पिछड़ा वर्ग मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष सुनीता मानिकपुरी, मनीष गुप्ता ने भी संबोधित किया। इस मौके पर प्रमुख रूप से जयश्री चौकसे, मनीष अग्रवाल, प्रकाश सूर्या, पल्लव धर, प्रवीण दुबे, विजय सिंह, संदीप दास, चन्द्रप्रकाश मिश्रा, निम्मा जीवनानी, योगेश बोले, शेखर पाल, प्रकाश यादव, डीके साहू, कृष्णा रजक, रिंकु मित्रा, मनीष गुप्ता, नितिन छाबडा, महर्षि बाजपेयी, मुकेश राव, मोनू रजक, ऋषभ चतुर्वेदी, राहुल सराफ, सिद्धार्थ शुक्ला, नीतिन पटेल, केतन सिंह,विजय ताम्रकार, दुर्गा सोनी, आदित्य तिवारी,उपस्थित थे।
          

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *