इंडिया वाल

केंद्रीय मंत्री का फोन काटने वाले लेखपाल के खिलाफ होगी जांच

CBSE 10th Result 2019

अमेठी-अमेठी की सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की आवाज को फोन पर न पहचान पाने वाले लेखपाल के खिलफ अपने कर्तव्यों का निर्वहन नहीं करने के आरोप में जांच की जा रही है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अमेठी दौरे पर एक शिकायत के निवारण के लिए जिम्मेदार लेखपाल को फोन लगाया था। लेखपाल ने फोन काट दिया था और स्मृति ईरानी को पहचान भी नहीं पाए थे।दरअसल केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अमेठी दौरे पर थीं। इसी दौरान कुछ लोग स्मृति ईरानी के पास अपनी शिकायत लेकर पहुंचे। एक युवक ने स्मृति ईरानी को बताया कि उनके पिता एक शिक्षक थे और उनकी मृत्यु के बाद उनकी मां सावित्री देवी पेंशन की हकदार हैं। लेकिन क्षेत्रीय लेखपाल दीपक के  द्वारा सत्यापन पूरा नहीं किया गया इसलिए उनकी पेंशन रुक गई है। शिकायत करने वाले युवक का नाम करुणेश है। करुणेश की शिकायत के बाद केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री सुश्री ईरानी ने लेखपाल को फोन किया लेकिन वह उन्हें पहचान नहीं पाए और फोन काट दिया। 

इसके बाद स्मृति ईरानी ने दोबारा फोन लगाया और कहा, “हैलो लेखपाल जी, अंकुर को जानते हैं, मैं स्मृति ईरानी बोल रही हूं साहब, सांसद अमेठी। आप अंकुर को जानते हैं, लीजिए वे आपको अपना परिचय देंगे।” लेकिन लेखपाल अधिकारी को भी नहीं पहचान पाते। अब इस मामले में अमेठी के मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) अंकुर लाथर ने बताया है कि मुसाफिरखाना लेखपाल दीपक की ओर से ढिलाई के मामले की जांच की जाएगी। अमेठी के मुख्य विकास अधिकारी ने कहा है कि यह अपने कर्तव्यों का निर्वहन नहीं करने का मामला है। 

इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद इस घटना की खूब चर्चा हुई।बता दें कि अमेठी के मुसाफिरखाना तहसील के पुरे पहलवान गांव के निवासी करुणेश ने स्मृति ईरानी को अपना शिकायती पत्र 27 अगस्त को दिया था।

परीक्षा से पहले बेरोजगार परेशान,नकल व धांधली रोकने धारा 144 लागू करने की रखी मांग,अटेंडेंस को लेकर दिये यह सुझाव
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS