दिया जाएगा माकूल जवाब..अटल ने कहा..भाजपा नेताओं ने प्रदेश की संस्कृति और परम्परा का किया अपमान..भाजपा को मांगनी होगी जनता से माफी

बिलासपुर— भाजपा के राष्ट्रीय नेता अभद्र और स्तरहीन टिप्पणीयां कर सुर्खियों में बने रहना चाहते हैं। भाजपा के राष्ट्रीय नेता के ऐसे बयानों को अब कांग्रेस कार्यकर्ता बर्दास्त नहीं करेंगे। यह बातें पर्यटन मण्डल बोर्ड के चैयरमैन अटल श्रीवास्तव ने छत्तीसगढ़ के दौरे पर बिलासपुर पहुंचे भाजपा मोर्चा संगठन के राष्ट्रीय प्रभारी सी.टी.रवि  के बयान पर कही। अटल ने कहा सीटी रवि ने बिलासपुर, भिलाई और रायपुर में दिये गये बयानों के निंदा करते हैं।

                    जानकारी देते चलें कि भाजपा के मोर्चा के राष्ट्रीय प्रभारी सीटी रवि एक दिन पहले एक दिवसीय प्रवास पर बिलासपुर पहुंचे। उन्होने भिलाई रायपुर के बाद बिलासपुर में भी कांग्रेस के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ.मनमोहन सिंह पर बयान देकर कांग्रेस नेताओं पर जमकर निशाना साधा। सीटी रवि ने अपने बयान में कहा कि डॉ. मनमोहन सिंह की सरकार ने पूंजीपतियों को लाभ पहुचाने का काम किया है। साथ ही कांग्रेस नेताओं पर गोबर खाने का बयान दिया।

                   सीटी रवि के बयान पर प्रेस नोट जारी कर पर्यटन मंडल अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने कहा कि पूर्व में भाजपा प्रदेश प्रभारी डी.पुण्डेश्वरी के थूक वाला बयान और अब भाजपा मोर्चा संगठन प्रभारी सी.टी.रवि का गोबर खाने वाला बयान अभद्र, स्तरहीन और अमर्यादित है। रवि के बयान से जाहिर होता है कि भाजपा का चाल, चरिद्र और चेहरा क्या है। कांग्रेस नेता अटल समेत प्रमोद नायक अभय नारायण राय ने संयुक्त बयान में कहा कि प्रदेश भाजपा की बैठकों में जब राष्ट्रीय नेताओं को प्रदेश सरकार के खिलाफ कोई नकारात्मक फिडबैक नहीं मिल तो बौखलाहट में आपा खो दिया। और अंसतुलित होकर पार्टी चरित्र के अनुसार बयान जारी किया है।

           अटल श्रीवास्तव ने कहा कि 6 साल में मोदी सरकार भारत की जनता ’’हम दो हमारे दो’’ ’’हम दो मोदी-शाह, हमारे दो- अबानी अडानी’’ का तगमा दे रही है। नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, विजय माल्या ने मोदी सरकार के ही कार्यकाल में बैंक का हजारों करोड़ रूपए लेकर विदेश के लिए उड़ गए। लोग आज भी समझने का प्रयास कर रहे हैं कि सभी  डिफाल्टर भगे हैं या फिर इन्हें भगाया गया है। 

            अटल ने कहा कि भाजपा सरकार ने देश की सार्वजनिक उपक्रम की संपत्ति रेलवे, बीएसएनल, इंडियन आयल, एलआईसी को बेचने का कदम अपने अपने मित्रों के लिए उठाया है। सी.टी.रवि इस मुद्दे पर बयान जारी करें कि काले कृषि कानून से आडानी और अंबानी को कितना फायदा हो रहा है। बिल का पूरे देश में क्यों विरोध हो रहा है।

 अटल ने बताया कि गोबर खरीदी जैसी योजना से भूपेश सरकार ने भारतीय परम्परा और संस्ृति के अनुसार गाय और गोबार का सम्मान किया है।  गांव के हजारों बेरोजगार युवकों को रोजगार मुहैया कराया यह बात भाजपा के राष्ट्रीय नेताओं को पच नहीं रही है।

           सीटी रवि के बयान की कांग्रेस पार्टी निंदा करती है। छत्तीसगढ़ के भाजपा नेताओं को राष्ट्रीय नेता के बयान पर माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस नेताओं ने कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि भविष्य में ऐसे बयानों को कांग्रेस कार्यकर्ता बर्दास्त नहीं करेंगे। इसके अलावा माकूल जवाब भी देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.