TOP NEWS

Election- तीन राज्यों में चुनाव की तारीखों का एलान

Election- तीनों राज्यों में चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है. त्रिपुरा में 16 फरवरी को जबकि मेघालय और नागालैंड में 27 फरवरी को चुनाव होंगे. 2 मार्च को तीनों राज्यों में मतगणना होगी.भारत निर्वाचन आयोग (ECI) आज नागालैंड, मेघालय और त्रिपुरा की विधानसभाओं के आम चुनावों की घोषणा कर रहा है. बता दें कि फरवरी में इन तीनों राज्यों में चुनाव होने हैं. पिछले दिनों चुनाव आयोग की टीम ने नागालैंड, मेघालय और त्रिपुरा का दौरा किया. बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग ने इस दौरान केंद्रीय सुरक्षाबल से भी संपर्क किया है. इन तीनों राज्‍यों की स्थिति का परखने के बाद अब चुनाव आयोग चुनाव की तारीखों का ऐलान करने जा रही है.

Election-त्रिपुरा में कुल सीटें 60 हैं और बहुमत का आंकड़ा 31 है. मेघालय में कुल सीटें 60 हैं और बहुमत का आंकड़ा 31 है. नागालैंड में कुल सीटें 60 और बहुमत का आंकड़ा 31 है.

Election-नागालैंड, मेघालय और त्रिपुरा विधानसभा का कार्यकाल क्रमश: 12 मार्च, 22 मार्च और 15 मार्च को पूरा हो रहा है. अब इससे पहले इन राज्‍यों में नई सरकार का गठन करना है. इधर, स्‍थानीय से लेकर राष्‍ट्रीय पार्टियों ने भी इन राज्‍यों में चुनावों के लिए कमर कस ली है.इस वर्ष इन तीन राज्यों के साथ-साथ कुल नौ राज्यों में विधानसभाओं के चुनाव होने वाले हैं. इनमें कर्नाटक, राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, तेलंगाना और मिजोरम शामिल हैं. नागालैंड में कोई विपक्ष नहीं है, वहां सर्वदलीय सरकार है. वहीं, त्रिपुरा में भाजपा की सरकार है, जबकि मेघालय में भी गठबंधन के जरिए बीजेपी ही सरकार में है.नागालैंड में विधानसभा का कार्यकाल 12 मार्च, मेघालय में 15 मार्च और त्रिपुरा विधानसभा का कार्यकाल 22 मार्च को पूरा हो रहा है. त्रिपुरा में जहां बीजेपी की अकेले सरकार है. वहीं मेघालय और नागालैंड में बीजेपी गठबंधन सरकार का हिस्सा है.

Cold Wave: शीतलहर का कहर! पहाड़ी इलाकों में -15 तक पहुंचा तापमान,आफत बनी सर्दी

Election-इस साल नौ राज्‍यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को अगले वर्ष 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव के सेमीफाइनल के रूप में देखा जा रहा है. ऐसे में सभी पार्टियों ने इन चुनावों के लिए कमर कस ली है. भाजपा की कार्यकारिणी की बैठक में भी चुनावों की रणनीति पर बात हुई. त्रिपुरा और मेघालय में 2-2, जबकि नागालैंड में लोकसभा की एक सीट है.

Election-त्रिपुरा में इस समय बीजेपी की सरकार है. पिछले विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने यहां क्लीन स्वीप किया था. 60 सीटों वाली विधानसभा में बीजेपी के 36 विधायक, सीपीएम के 16 और IPFT के 8 विधायक हैं.नागालैंड में भी 60 सीटों पर वोटिंग होगी. 2018 के विधानसभा चुनाव में राज्य में एनपीएफ को 26, एनडीपीपी को 18, बीजेपी को 12 जबकि अन्य के हिस्से में 4 सीटें आई थीं.मेघालय में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में 21 सीटों के साथ कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनी थी. हालांकि 60 सीटों वाली विधानसभा में बहुमत से काफी पीछे थी. एनपीईपी को 19, यूडीपी को 6 सीटें जबकि 14 सीटें अन्य के खाते में गई थीं.2023 में त्रिपुरा, मेघालय, नागालैंड और मिजोरम के अलावा, राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, कर्नाटक और तेलंगाना में भी विधानसभा चुनाव होंगे.

Election-नागालैंड, मेघालय यात्रा की विधानसभाओं का कार्यकाल क्रमशः 12 मार्च, 15 मार्च और 22 मार्च को समाप्त हो रहा है. 97,000 मतदाता 80 वर्ष से अधिक आयु के हैं, 2,600 मतदाता 100 वर्ष से अधिक आयु के हैं.सीईसी ने कहा कि इन राज्यों में महिलाओं की भागीदारी पुरुषों से ज़्यादा रही है. महिला वोटरों की संख्या भी ज़्यादा है. हम 11 से 14 जनवरी तक तीनों राज्यों के दौरे पर थे. हमने उन लोगों के लिए एडवांस नोटिस का प्रावधान बनाया है जो 17 के हो गए हैं, लेकिन 18 साल के नहीं हुए हैं ताकि 18 साल का होते ही उन्हें वोटर कार्ड मिल जाए और उनका नाम जुड़ जाए. इन तीनों राज्यों में ऐसे 10 हज़ार लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है. तीनों राज्यों में 9000 से ज्यादा पोलिंग स्टेशन होंगे. इनमें 376 ऐसे होंगे जो पूरी तरह महिलाओं द्वारा संचालित होंगे.सीईसी राजीव कुमार ने कहा कि 2.28 लाख नए वोटर जुड़े, निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

पेट्रोल पंप में लूट की कोशिश, गोली चलने से मचा हड़कंप

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS