परमाणु ऊर्जा विभाग का कर्मचारी हुआ ठगी का शिकार..25 लाख के फेर में गवांया 15 लाख

बिलासपुर— 25 लाख रूपय़े पाने के चक्कर में परमाणु ऊर्जा विभाग का रिटायर्ड कर्मचारी ठगी का शिकार हो गया है। रिटायर्ड कर्मचारी को ठगों ने आनलाइन 15 लाख का फटाका लगाया है। रिटायर्ड कर्मचारी की शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने सभी पांचों आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 420,34 का अपराध दर्ज किया है।

             सिटी कोतवाली पुलिस के अनुसार परमाणु ऊर्जा विभाग के रिटायर्ड कर्मचारी को ठगों ने आनलाइन 14 लाख 75 हजार 450 रूपए का फटका दिया है। रिटायर्ड कर्मचारी का नाम रामखिलावन पिता फिरंगीलाल 66 साल है।

                           थाने से मिली जानकारी के अनसुार रामखिलावन  ने शिकायत में बताया है कि 17 नवम्बर 2019 से 9 दिसम्बर 2020 के बीच 25 लाख पाने के चक्कर में ठगों ने आनलाइन अब तक 14 लाख 75 हजार 450 रूपयो की ठगी की है।

            रामखिलावन के अनुसार मोबाइल पर आ़इडिया कम्पनी के प्रबंधक का पोन आया। प्रबंधन ने बताया कि लकी ड्रा में उनके नम्बर को लकी पाया गया है। ईनाम में 5 लाख रूपयों के साथ बजाज की एक बाइक मिलेगी। इसके लिए उन्हें 1100 रूपए प्रोसेसिंग फीस का भुगतान करना होगा।

                                       प्रोसेसिंग फीस जमा करने के बाद आइडिया कम्पनी के प्रबंधक ने कई बार फोन किया। और समय समय पर बताए गए खाते में रूपया जमा करता रहा। इस बीच आइडिया कम्पनी की दिल्ली शाखा से अजय शाहा और त्रिपाठी, रायपुर से आनन्द पटेल, दिल्ली से शरमन देव और देवप्रसाद का भी फोन आया। सभी ने खुद को कम्पनी का अलग अलग क्षेत्रों का अधिकारी होना बताया।             

         रामखिलावन के अनुसार सभी कर्मचारियों ने फोन कर बताया कि अब लकी ड्रा की ईनामी राशि  5 लाख से बढ़कर 25 लाख हो गयी है। साथ में बाइक भी मिलेगी। पांचों ने अलग अलग समय पर खाते में रूपया जमा करवाए। हर पांचों ने कहा कि जल्द ही ईनामी राशि और बाइक उनके पते पर पहुंच जाएगी।

                    बार बार रिमान्ड के बाद भी ना तो ईनामी राशि मली और ना ही बाइक। इस दौरान उन्होने हिसाब किताब लगाया तो वह 14 लाख से अधिक रूपए बताए खाते में जमा कर चुके थे। बावजूद इसके आरोपियों ने और रूपयों की मांग की। फिर समझते देर नहीं लगी कि वह ठगी का शिकार हो चुके हैं।

               कोतवाली थाना प्रभारी ने बताया कि  पुलिस ने रामखिलावन की शिकायत पर पांचों अज्ञात आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 420,34 का अपराध दर्ज कर लिया है।जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *