मेरा बिलासपुर

अमित का बयान..सीएम आवास ले जाएंगे अस्थियां..बहन की बातों का होगा सम्मान…कार्यकर्ता आंदोलन के लिए तैयार

JOGI AMIT बिलासपुर–मरवाही विधायक अमित जोगी ने ऐलान किया है कि बच्चूलाल के फूल को विसर्जन से कबीरधाम स्थित मुख्यमंत्री निवास ले जाया जाएगा। जहाँ बच्चूलाल ने खुद को आग के हवाले किया। जोगी ने बताया कि एक दिन पहले अनूपपुर जिले के अमलाई स्थित ईटाभट्टा में बेचूलाल के परिवार से मिलने गया था। दोपहर में दो प्रदेशों की पुलिस की कड़ी सुरक्षा में बेचू का दाह संस्कार किया गया। परसों रात बंदूक़ की सुरक्षा में पीडित परिवार की इच्छा के खिलाफ बच्चूलाल की लाश को मध्य प्रदेश भेजा गया था।

जोगी ने बताया कि बच्चूलाल अनूपपुर जिले के शहडोल स्थित घर में कई सालों से कोई नहीं रहता। घर में बिजली,पानी की भी सुविधा नहीं है। घर पहुंचने के बाद बच्चूलाल की माँ,पत्नी, चार छोटे बच्चों, दो बहनों से मिलने का मौका मिला। राशन नहीं होने के कारम सभी भूखे पेट सोने की कोशिश कर रहे थे।  बेचूलाल की की माँ पत्नी सुनीता, बहन अनिता और निशा ने बताया कि अधिकारी ज़बरदस्ती 50 हजार रूपए  पकड़ा रहा थे।JOGI.AMIT

                बेचू की पत्नी और मां के अनुसार पचास हजार रूपए देने वालों से कहा कि यदि तनख्वाह दे देते तो घर का मालिक बच जाता। सुनीता के अनुसार उसका पति गली गली नहीं भटकता। आज हमारे बीच ज़िन्दा रहता । बहन निशा ने बताया कि पुलिस ने धमकता हुए कहा कि भाई की लाश नहीं ले जाओगे तो ठोंक देंगे। बहन अनिता के अनुसार बच्चू के फूल और अस्थियाँ इलाहबाद ले जाने से पहले वहां ले जाएंगे जहां भैया ने आत्मदाह किया था।

बकायदारों का काटा जाएगा कनेक्शन..अभियन्ता का निर्देश..बर्दास्त नहीं सुरक्षा मानकों से खिलवाड़

                                    अमित जोगी ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि स्वर्गीय बच्चूलाल की बहन अनिता के बातों का समर्थन करता हूं। भले ही बच्चूलाल की लाश को  प्रदेश के बाहर भेजकर जला दिया गया। लेकिन अस्थियाँ अभी ठण्डी नहीं हुई है। अस्थियों को परिवार की इच्छा के अनुसार कबीरधाम स्थित मुख्यमंत्री निवास लाया जाएगा। यदि जोर जबरदस्ती कर रोकने का प्रयास किया गया तो जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के कार्यकर्ता उग्र आंदोलन के लिए तैयार हैं।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS