VIDEO-धान खरीदी मुद्दा पर भाजपा का जंगी प्रदर्शन.5 हजार को जेल..किया दावा,सरकार की होगी विदाई..बैलगाड़ी से सवार होकर पहुंचे धरम,अमर,हर्षिता

बिलासपुर—- पूरे दो साल बाद प्रदेश में एक साथ जिला स्तर पर भाजपा नेताओं ने किसी मुद्दें को लेकर सरकार के खिलाफ जंगी  प्रदर्शन किया। बिलासपुर में भाजपा के दिग्गज नेताओं की अगुवाई में भाजपा नेता और कार्यकर्ताओं ने सरकार की नीतियों के खिलाफ करीब चार घंटा तक ग्रीन पार्क मैदान मुंगेली नाका में धरना प्रदर्शन किया। इसके बाद सभी दिग्गज नेता कार्यकर्ताओं के साथ बैलगाड़ी पर सवार होकर रैली निकालकर सरकार पर जमकर निशाना साधा। इस दौरान पुलिस की चाक चौबन्द व्यवस्था देखने को मिली। कुछ देर के लिए सभी को गिरफ्तार कर मुंगेली नाका स्थित शैफर्ड स्कूल में बनाए गए जेल में रखा गया। करीब आधे घण्डा बाद सभी को पुलिस ने रिहा भी कर दिया।मुंगेली नाका स्थित ग्रीन गार्डन में शुक्रवार को  जिले के सभी विधानसभा क्षेत्र के दिग्गज भाजपा नेताओं की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने धान खरीदी मुद्दे पर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। भाजपा नेताओं ने दावा किया कि धरना प्रदर्शन में करीब 5 हजार से अधिक लोग शामिल हुए। खासकर किसानों ने धरना प्रदर्शन में शामिल होकर भूपेश सरकार की रीति नीति का विरोध किया। कार्यक्रम को मंच से विधानसभा नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल, बेलतरा विधायक रजनीश सिंह, मस्तूरी विधायक डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी, मोतीलाल साहू, पूजा विधानी, राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय ने ओजस्वी भाषण दिया।click here to join my whatsapp news group

 साढ़े पांच हजार भीड़ का दावा

                 भाजपा नेता धरमलाल कौशिक और पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने दावा किया कि धरना प्रदर्शन में जिले के सभी विधानसभा क्षेत्र से करीब 5 हजार किसानों ने शिरकत किया। इससे जाहिर होता है कि प्रदेश का किसान प्रदेश सरकार के झूठ और सच को पहचान चुकी है। इस भीड़ से जाहिर होता है कि किसानों को प्रदेश सरकार ने कितनी बुरी तरह छला और धोखा दिया है।

 मैदान से बैलगाड़ी पर सवार होकर कलेक्टर को घेरने निकले नेता

                धरना प्रदर्शन के बाद करीब चार बजे भाजपा नेता धरम और अमर की अगुवाई में बैलगाड़ी और ट्रैक्टर पर सवार कलेक्टर कार्यालय की तरफ रवाना हुए। इसके पहले सभी नेताओं को मुंगेली नाका के पास शेफर्ड स्कूल के सामने सामुहिक रूप से गिरफ्तार किया गया।

पांच हजार लोग गिरफ्तार..अस्थायी जेल पहुंचे

               बैलगा़डी पर सवार होकर जैसे ही भाजपा नेता और किसान अमर धरम मोती लाल साहू और हर्षिता पाण्डेय की अगुवाई में मुंगेली नाका के पास पहुंचे..सभी को गिरफ्तार कर लिया गया। इस दौरान भाजपा नेताओं ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सरकार से इस्तीफे की मांग की। पुलिस के निवेदन और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के इशारे पर सभी लोगों को अस्थायी रूप से बनाए गए शैफर्ड स्कूल में भेजा गया।

पुलिस की चाक चौबन्द व्यवस्था

                 भाजपा के जंगी प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस प्रशासन खासकर चौकस नजर आया। कलेक्टर कार्यालय और वेयर हाउस रोड को पूरी तरह से ब्लाक कर दिया गया। साथ ही बनाए गए अस्थायी दीवार के सामने महिला पुलिस के साथ भीड़ को रोकने जवान तैनात रहे। इस दौरान भीड़ और पुलिस के बीच हल्की बातचीत और झ़ड़प की रस्म अदायगी भी हुई। इसके बाद सभी लोग अस्थायी जेल पहुंच गए।

सरकार की विदाई तय..धरमलाल

                 अस्थायी जेल में पत्रकारों से बातचीत के दौरान धरम लाल कौशिक ने कहा कि हम किसानों का दर्द तकलीफ बर्दास्त नहीं कर सकते हैं। यदि सरकार ने आंदोलन को रूक नहीं भांपा और किसानों का धान बोनस के साथ समर्थन मूल्य में नहीं खरीदा गया तो सरकार की विदाई निश्चित है।

 लोकतांत्रिक मूल्यों का सम्मान..हर बार भरेंगे जेल…अमर

          पूर्व  मंत्री अमर अग्रवाल ने कहा कि भाजपा का लोकतांत्रिक मूल्यों में गहरा विश्वास है। हमें कलेक्टर से नहीं मिलने दिया गया। बीच में गिरफ्तार कर अस्थायी जेल भेजा गया। सरकार वादा खिलाफी कर रही है। जब-जब वादा खिलाफी किया गया..हम तब तब आंदोलन करेंगे। धरना प्रदर्शन के साथ जेल जाने के लिए तैयार रहेंगे।

धरना प्रदर्शन के कारण और मांग

             धरमलाल कौशिक, अमर अग्रवाल,और हर्षिता पाण्डेय ने बताया कि सरकार ने वादा खिलाफी की है। सरकार को धान का समर्थन मूल्य 2500 देना होगा। बोनस भी देना होगा। वन भूमि पट्टाधारियों का भी धान खरीदना होगा। इसके अलावा गिरदावरी के बहाने हटाए गए रकबे को बहाल करते हुए किसानों का धान सरकार को खरीदना होगा। यदि सरकार ने वादा नही निभाया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *