फर्जी जेलर बन, 1 लाख 86 हजार की धोखाधड़ी..जमानत दिलाने के नाम पर महिला को ठगा..ऐसे पकड़ाया आरोपी

बिलासपुर—खुद को जेल अधिकारी बताकर पीड़ित महिला से एक लाख 80 हजार रूपयों की ठगी के फरार आरोपी को पुलिस न गिरफ्तार किया है। आरोपी का नाम योगेश खूंटे है। आरोपी बिलारी थाना शिवरीनारायण जांजगीर का रहने वाला है। आरोपी ने पीड़ित महिला के पति को सक्ती जेल से जमानत दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी को अंजाम दिया है। ठगी के बाद आरोपी फरार चल रहा था।
 
              तोरवा थानेदार फैजूल शाह होदा ने बताया कि देवरीखुर्द निवासी प्रियंका सोनी ने थाना पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराया। महिला ने बताया कि उसका पति जेल में सजा काट रहा है। पति को छुड़ाने को लेकर लगातार प्रयास कर रही थी। इसी दौरान उसकी मुलाकात योगेश खूंटे से हुई। योगेश ने बताया कि वह सक्ती जेल का अधिकारी है। उसके पति को आसानी से जमानत दिला सकता हूं। लेकिन इसके लिए कुछ रूपये खर्च करने होंगे।
 
              पीड़िता प्रियंका ने अपनी शिकायत में बताया कि आरोपी को एक लाख 80 रूपए पति को जेल से छुड़ाना के लिए दी। लेकिन वह रूपए लेकर फरार हो गया है। फैजूल शाह ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज करने के बाद मामले को विवेचना में लेकर जानकारी को आलाधिकारियों से साझा किया गया।
 
                           पुलिस कप्तान पारूल माथुर के निर्देश पर एडिश्नल एसपी राजेन्द्र जायसवाल के मार्गदर्शन में टीम का गठन किया गया। जांच पड़ताल के दौरान जानकारी मिली कि आरोपी इस समय जांजगीर में छिपा है। पतासाजी के बाद आरोपी को घेराबंदी कर पकड़ा गया। आरोपी के खिलाफ आईपीसी की 420 का अपराध दर्ज किया गया। गिरफ्तारी के बाद योगेश खूंटे को न्यायिक रिमाण्ड पर पेश किया गया है। 
 
                                          सम्पूर्ण कार्रवाई में थाना तोरवा प्रभारी फैजुल होदा शाह, सहायक उप निरीक्षक भरतलाल राठौर प्रधान आरक्षक अशोक कश्यप, आरक्षक मिथलेश सोनी, धर्मेन्द्र साहू, अनूप किण्डो, उदय पाटले का विशेष सराहनीय योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *