अरूण साव निवास पहुंचने से पहले..पुलिस ने कांग्रेसियों को रोका..विजय और शैलेष ने स्मृति ईरानी के खिलाफ बोला धावा..एसडीएम को दिया गोबर, गौमूत्र और गंगाजल

बिलासपुर—ज़िला कांग्रेस कमेटी की अगुवाई में मंगलवार को कांग्रेस नेताओं ने कुछ अलग हटकर भानुप्रतापपुर विधानसभा प्रत्याशी ब्रम्हानन्द और भाजपा नेताओं के खिलाफ प्रदर्शन किया।  कांग्रेस नेताओं ने प्रदेश अध्यक्ष और सांसद अरुण साव को गंगाजल, गोबर और गौमूत्र  भेंट करने रैली निकालकर आक्रोश जाहिर किया। ज़िला अध्यक्ष विजय केशरावनी की अगुवाई और शैलेष पाण्डेय की उपस्थिति में सभी कांग्रेसियों ने रैली निकालने के पहले उस स्थान पर विधि विधान से पूजा पाठ किया..जहां से केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने हुंकार रैली को संबोधित किया था। विजय और शैलेष पाण्डेय ने कहा कि स्मृति ईरानी ने छत्तीसगढ़ महतारी को कलंकित किया है। ईरानी और उनकी पार्टी को जवाब देना होगा कि आखिर छत्तीसगढ़ महतारी को कंलकित करने का अधिकार उन्हें किसने दिया है।
 
                  विजय केशरवानी ने बताया कि प्रदेश सरकार के विकास नीती का कमाल है कि भाजपा को भानुप्रताप पुर विधानसभा उप-चुनाव में एक भी साफ सुथऱा प्रत्याशी नहीं मिला है। मजबूर होकर भारतीय जनता पार्टी को बलात्कारी ब्रम्हानन्द नेताम को उम्मीदवार बनाने को मजबूर होना पड़ा। विजय ने पत्रकारों को बताया ब्रम्हानन्द नेताम के खिलाफ झारखण्ड पुलिस ने 2019 में नाबालिक लड़की से रेप का अपराध दर्ज किया है। तत्कालीन झारखण्ड की भाजपा सरकार ने कार्यवाही को बाधित किया। भानुप्रतापपुर में नामांकन भरते समय मामले का जिक्र ब्रम्हानन्द ने नहीं किया है।इस हरकत से चाल चरित्र और चेहरा  की दुहाई देने वाली पार्टी का चेहरा बेनकाब हो गया है।
 
                                           केशरवानी ने बताया कि जिस स्थान से केन्द्रीय मंत्री ईरानी ने महिला सम्मान की झूठी बातें कहीं थी..उस स्थान पर पहुंचकर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूजा पाठ किया। गंगाजल और गौमूत्र से जमीन को पवित्र किया है। नारी सम्मान की बात करने वाली स्मृति ईरानी को जवाब देना होगा।  उन्हें छत्तीसगढ़ महतारी का अपमान करने का अधिकार किसने दिया।
 
                            विजय और शैलेष ने बताया कि हम लोग धरती को पवित्र करने के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को गौमूत्र, गोबर और गंगाजल देने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के निवास पहुंचने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस ने हमें आवास तक नहीं पहुंचने दिया। एसडीएम को गोबर, गौमूत्र और गंगाजल देकर सांसद अरूण साव तक पहुंचाने को कहा है।
 
                          दोनो नेताों ने बताया कि पूरी उम्मीद है कि प्रदेश भाजपा अध्यक्ष गोबर मूत्र और गंगाजल से पार्टी को शुद्ध करेंगे। कांग्रेस नेताओं ने बताया कि कुछ दिन पहले ही भाजपा की केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बिलासपुर की धरती पर नारी सम्मान की बड़ी बड़ी बाते कही थी। चंद दिनों में  री सम्मान का मुखौटा उतर गया है। उप चुनाव में ऐसे व्यक्ति को प्रत्याशी बनाया है जिस पर नाबालिक लड़की के साथ बलात्कार का आरोप है। मामला  न्यायालय में विचाराधीन है।  ब्रम्हानंद नेताम ने आने रसूख के दम पर अपराध को छिपाया है। चुनाव आयोग को भी गुमराह किया है। 
 
            केशरावनी और नगर विधायक ने कहा कि अरूण साव पढ़े लिखे और कानून के अच्छे जानकार हैं। लेकिन उनका पार्टी में कुछ चलता नहीं है। इसलिए हमने आज गोबर, गंगाजल और मौमूत्र देकर पार्टी को शुद्धीकरण करने को कहा है। बावजूद इसके यदि भारतीय जनता पार्टी रेपिस्ट से टिकट वापस नहीं लेती हैतो प्रदेश की आधी आबादी सड़क पर उतरकर सदन तक जंग का एलान करेंगी।
 
पुलिस की चाक चौबन्द व्यवस्था
         
                 विकास भवन के सामने पूजा पाठ के बाद सभी कांग्रेसी रैली की शक्ल में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के निवास की तरफ रवाना हुए। इस दौरान कलेक्टर कार्यालय की तरफ जाने और आने के रास्ते को पुलिस ने पूरी तरह रोक दिया। बेरिकेट्स के पास पहुंचकर कांग्रेसियों ने जमकर नारेबाजी की। भाजपा पर महिला विरोधी होने का आरोप लगाया।  
 
शंखनाद के साथ निकली रैली
 
             कांग्रेस की रैली के दौरान पंडितों ने जमकर शंखनदा किया। कांग्रेस नेताओं ने बताया कि शंख की आवाज से वातावरण शुद्ध होता है। साथ ही अन्तर्मन भी पवित्र होता है। महाभारत युद्ध भी शंखनाद से ही शुरू हुआ था। अब छत्तीसगढ़ की महतारी शंखनाद कर स्मृति ईरानी का मुखौटा उतार दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *