नारायणपुर- नक्सल पीड़ित 577 परिवारों को दिया गया पुनर्वास योजना का लाभ

Shri Mi
3 Min Read

नारायणपुर- नारायणपुर जिला नक्सल प्रभावित होने के कारण अंदरूनी गांवों के ग्रामीणों को नक्सलियों द्वारा प्रताड़ित करने, गांव से भगाने सहित अन्य प्रकार से परेशान किया जाता हैं। गांवों से निकाले गये इन ग्रामीणों को जिला प्रशासन द्वारा आसरा जिला मुख्यालय नारायणपुर में दिया जाता है। जिला प्रशासन द्वारा इनके लिए एक मोहल्ला बनाया गया है, जिसमें इसी प्रकार से सताये गये लोगों को रखा जाता है। जिला प्रशासन इन लोगों को वे सारी सुविधायें उपलब्ध कराने के प्रतिबद्ध है, जो एक सामान्य नागरिक को मिलनी चाहिए। जिला प्रशासन द्वारा इन्हें रहने के लिए जमीन, पेयजल, बिजली, सड़क, शिक्षा, राशन सहित अन्य सभी जरूरी सुविधायें सुलभ करायी जा रही है। इनकी समस्याओं को सुनने के लिए जिला प्रशासन के आला अधिकारी समय-समय पर इनके बीच जाकर इनकी समस्याओं को सुनते है और उनका निराकरण संवेदनशीलता के साथ करते हैं।
नारायणपुर जिला गठन के पश्चात् जिला व पुलिस प्रशासन द्वारा 577 आत्म समर्पित एवं नक्सल पीड़ितों को शासन की पुनर्वास योजना के सहायता राशि दी गई हैं। शासन के प्रावधान अनुसार नक्सली घटनाओं में मृत आम नागरिकों के उत्तराधिकारीयो के कुल 112 प्रकरणांे पर कार्यवाही कर 1 लाख से 5 लाख तक अनुग्रह आर्थिक सहायता राशि प्रदान की गई है। वहीं 15 नक्सल पीड़ितों को शासकीय नौकरी भी प्रदान की गई है। नक्सली घटना में घायल 21 आम नागरिकों को आर्थिक सहायता राशि प्रदान किया गया तथा 429 परिवारों को नक्सलियों द्वारा गांव से भगाए जाने पर सामग्री के नुकसान व मकान की क्षति पर राहत राशि प्रदाय की गई है । वहीं मुख्यमंत्री खाद्यान्न योजना के तहत् 577 परिवारों को राशन कार्ड का लाभ पहुंचाया गया है। इसके साथ ही उन्हें न्यूनतम दर पर खाद्यान्न प्राप्ति के लिए राशन कार्ड प्रदान किया गया है। नक्सल पीड़ित परिवारों को आवागमन में सुविधा प्रदान करने के लिए प्राप्त आवेदनों पर कार्यवाही कर उन्हें यात्री बसों में 50 प्रतिशत् किराया में छूट के लिए प्रमाण पत्र प्रदाय करने की कार्यवाही जिला परिवहन कार्यालय नारायणपुर द्वारा की जाती है।

नक्सल पीड़ित परिवारों के बच्चों को शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति के अलावा शासन की अन्य योजनाओं का लाभ प्राथमिकता के साथ प्रदान किया जाता है। साथ ही मुख्यमंत्री बाल भविष्य योजना के तहत् उत्कृष्ठ शालाओं में प्रवेश की व्यवस्था भी जिला प्रशासन द्वारा की गई है, जिसके तहत् नारायणपुर जिले के पीड़ित परिवारों के 28 बच्चों को जिला राजनांदगांव में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। जिले के कुल 577 नक्सल पीड़ित परिवारों को पुनर्वास योजना का लाभ उनकी आवश्यकता एवं आर्थिक नुकसान को ध्यान में रखकर प्रदान किया गया है। नक्सल पीड़ित परिवारों को शासन की योजना से वंचित न हो जिसके लिए नारायणपुर जिला में समय समय में शिविर आयोजन कर उनके समस्याओं का समाधान करने का प्रयास किया जा रहा है।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close