मेरा बिलासपुर

BEO ने जारी कर दिया स्कूल खोलने और शिक्षकों की नियमित हाजिरी का निर्देश,DEO बोले-कोई जानकारी नहीं

(मनीष जायसवाल)-कोरोना काल मे भी अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर जा कर स्कूल शिक्षा विभाग अपनी प्रयोगशाला से नया नया प्रयोग करने से कतरा नही रहा है। जिसका ताजा उदाहरण रायगढ़ जिले के तमनार ब्लाक के ब्लाक शिक्षा अधिकारी कार्यालय से जारी एक निर्देश से मिलता है। तमनार के ब्लॉक शिक्षा अधिकारी ने 30 जून को ब्लॉक के प्राचार्यों संकुल शैक्षणिक समन्वयकों की बैठक आयोजित की थी जिसमे सर्व सम्मति से निर्णय लिया कि तमनार के विकास खण्ड में शिक्षा के गुणात्मक विकास के लिए  11 बिंदुओं पर सहमत होकर कार्य किया जाना है। जिसमे सबसे महत्वपूर्ण एक जुलाई से ब्लॉक के सभी स्कूलों को नियमित रूप से खोलने व कार्यलयों के कर्मचारियों प्राचार्यो, प्रधान पाठकों, शिक्षको को नियमित रूप से उपस्थित रहने के निर्देश दिये गए है।CGWALL NEWS के व्हाट्सएप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

इसके अलावा एक बिन्दु में यह भी कहा गया है कि कवारन्टीन सेंटर बनाये गए स्कूलो की जगह शिक्षक पंचायत केंद्र आंगनबाड़ी केंद्र सामुदायिक भवन पंचायत भवन में अपनी उपस्थिति देंगे। सीजीवाल को जानकारी देते हुए तमनार ब्लाक के शिक्षा अधिकारी ने बताया कि स्कूल खुलने का कोई आदेश नही है। हमने सिर्फ अपने स्टाफ को कार्यलय बुलवाया है। बैठक में प्राचार्यो और संकुल समन्वयकों से चर्चा के दौरान  यह तय किया कि स्कूलों की व्यवस्था बनाये रखने और छात्रो को जोड़े रखने के लिए निर्णय लिया है। प्राचार्यो को अगर जरूरत पड़ी तो वे शिक्षको को बुलवा भी सकते है। 

रायगढ़ जिले तमनार ब्लॉक के बीईओ श्याम किशोर प्रधान कहते है कि यह कोई आदेश नहीं है।यह एक सुझाव मात्र है।हमारा तात्पर्य कार्य होने से है।वह कहां और कैसे आप लोगों पर निर्भर है।बस कोविड-19 के निर्देशों को ध्यान रखें। संस्था में कार्यालय खुले रहेंगे, प्रवेश, मार्कसीट संधारण आदि कार्य प्रारंभ कर दिया जावे यह कार्य संबंधित शिक्षक घर में या संस्था में सुविधा अनुसार कर सकते हैं क्वारंटाइन सेंटर  जहाँ है वहां के शिक्षक घर से अगले आदेश तक कार्य करेंगे, आनलाईन क्लासेस अनिवार्य रूप से सभी शिक्षको को स्कूल के टाइम टेबल के अनुसार लेना अनिवार्य है

कलेक्टर रघुवंशी ने कुंदला,कोहकमेटा और सोनपुर स्वास्थ्य केंद्र निरीक्षण

रायगढ़ जिला शिक्षा अधिकारी एम श्रीवास्तव ने बताया कि तमनार ब्लॉक से जारी निर्देश के बारे अभी जानकारी नही है। यदि शिक्षको को  स्कूल आने के लिए अनुरोध या निर्देश दिए गए है तो  नियमानुसार नोटिस जारी किया जायेगा।बताते चले कि सुकूमा जिला शिक्षा अधिकारी को भी सँयुक्त संचालक जगदलपुर ने ऐसे ही मिलते जुलते आदेश की वजह से कारण बताओ नोटिस जारी किया था। वही केंद्र सरकार ने एक जुलाई से  अनलॉक-2 का ऐलान किया गया है  जिसके अनुसार स्कूल-कॉलेज और कोचिंग संस्थान 31 जुलाई तक बंद रखे जाएंगे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS