मेरा बिलासपुर

बड़ी खबरः कार हादसा में 3 की भयंकर मौत..2 युवक समेत 1 लड़की की अस्थि बरामद..कहां गयी…दूसरी लड़की..पुलिस को तलाश

एमीगोज बार से हुए रवाना..चपोरा के पास कार जलकर खाक..तीन की हड्डियां बरामद

बिलासपुर–बीती रात रतनपुर-कोटा रोड स्थित चपोरा पेट्रोल पम्प से करीब 100 मीटर दूर पेड़ से टकराने के बाद कार धू-धू कर जल गयी है। घटना रात्रि करीब डेढ़ से दो बजे के आसपास की है। कार में सवार तीन लोगो के मरने की खबर सामने आ रही है। मरने वाले में एक लड़की भी शामिल है।इसके अलावा चौथे यानि दुसरी लड़की की तलाश की जा रही है।

बीती रात करीब डेढ़ बजे के आसपास रतनपुर से कुछ किलोमीटर दूर चपोरा स्थित पेट्रोल पम्प से कुछ मीटर दूर  रेत रफ्तार कार पेड़ से टकरा गयी है। टक्कर इतना जबरदस्त था कि पेड़ का तना इन्जन के अन्दर घुस  गया। और कार में भयंकर आग लग गयी। कार में सवार सभी लोगो मौके पर ही जलकर खाक हो गए। खबर लिखे जाने तक एक लड़की समेत तीन के शव की शिनाख्त हो चुकी है। जबकि चौथी लड़की की तलाश हो रही है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कार में बिलासपुर से चार लोग  जांपी जलाशय स्थित पचरा रिसार्ट के लिए निकले। इसके पहले चारों ने श्रीकांत वर्मा मार्ग स्थित एमीगोज बार में नशा को अंजाम दिया। करीब साढ़ 12 बजे के बाद दोनों लड़के दो लड़कियां के साथ चांपी जलाशय स्थित पचरा रिसार्ट के लिए रवाना हुए। कार हादसे के बाद सिर्फ तीन लोगों की ही शव को पहचाना जा सका है। शिनाख्त किए गए शव दो लड़कों और लड़की का है। तीनो इतनी बुरी तरह जल गये है कि पहचान में सिर्फ खोपड़ी ही मिली है। जबकि गाड़ी का इंजन और चेचिस धू -धू कर पूरी तरह से जल गया है।

बिलासपुर की सरलता ही चुनौती...नहीं मिला एक्सपोजर...मयंक ने बताया...आउट स्पोकेन नहीं..आउट वर्ल्डिंग बने

हादसे में मरने वाले तीनो का नाम और पता ठिकाना  

हादसे में मरने वालों का नाम समीर ऊर्फ शहनवाज, आशिका मनहर और अभिषेक कुर्रे है। सूत्रों की माने तो चौथी लड़की का नाम विक्टोरिया है। कार में सवार आशिका मनहर के अलावा दूसरी लड़की विक्टोरिया कहां पता लगाया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार विक्टोरिया का मोबाइल बन्द है। लेकिन साइबर सेल से पचा चल रहा है कि लोकेशन घटना स्थल के आस पास ही है। बहरहाल पुलिस विक्टोरिया को तलाश रही है। कयास लगाया जा रहा है कि कार में दो शव बुरी तरह से चिपके हुए हैं। शायद इसमें एक शव विक्टोरिया का हो। इसके अलावा यह भी कयास लगाया जा रहा है कि विक्टोरिया रास्ते में कही उतर गयी हो।

      सूत्र ने बताया कि समीर ऊर्फ शहनवाज राजनगर का रहने वाला है। पिछले दस साल से बिलासपुर में रहकर काम कर रहा था। और अपने साथी अभिषेक कुर्रे के साथ रिंग रोड स्थित मकान में रहता था। अभिषेक के माता पिता की पहले से ही मौत हो गयी है। मरने वाली आशिका मनहर कोरबा की रहने वाली है। बिलासपुर में रहकर पढ़ाई कर रही थी। 

कैसे हुई शव की पहचान

पुलिस सूत्र के अनुसार साथियों की निशानदेही पर घटना स्थल से बरामद चैन और कड़ा से समीर की पहचान की गयी है।  गले की चैन के आधार पर ही आशिका मनहर की भी पहचान हुई है। इसी तरह कुछ अन्य सामान के जरिए अभिषेक कुर्रे को भी पहचाना गया है। सभी की खोपड़ियों और हड्डियों को अलग अलग गठरी में रखा गया है।

सम्पत्ति कर में निगम ने किया छूट का एलान

पिता राजनगर से रवाना

शहनवाज ऊर्फ समीर के माता पिता राजनगर में रहते हैं। घटना की जानकारी के बाद माता पिता बिलासपुर के लिए रवाना हो चुके हैं। बहरहाल पुलिस भी मामले में जांच पड़ताल कर रही है। पता लगाया जा रहा है कि कार में सवार चौथी लड़की विक्टोरिया कहां है। और सभी लोग पचरा क्यों जा रहे थे। इसके पहले सभी ने मिलकर क्या किया है।  

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS