कलेक्टर ने ली समय सीमा की बैठक,लोक सेवा गारंटी,कोरोना वैक्सीनेशन व टीएल के लंबित आवेदनों की समीक्षा

बिलासपुर। कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर ने आज समय सीमा की बैठक में जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में नरवा विकास कार्याें का चयन करने कहा। उन्होंने कृषि, वन विभाग एवं उद्यानिकी विभाग को समन्वित रूप से नरवा के कार्याें के लिए कार्ययोजना बनाने कहा।मंथन सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने कहा कि नरवा का कार्य शासन की प्राथमिकता में है। अगली समय सीमा की बैठक में जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी इसके लिए अनिवार्य रूप से स्थल चयन कर रिपोर्ट भेजें। उन्होंने कहा कि स्थल का चयन इस प्रकार करें कि रोके गये पानी का अधिकतम उपयोग हो सके। कलेक्टर ने धान उठाव की समीक्षा की

अधिकारियों ने बताया कि धान का उचित रूप से उठाव किया जा रहा है। कलेक्टर ने सर्व शिक्षा अभियान के तहत् स्कूलों में बनाये जा रहे शौचालय निर्माण की भी समीक्षा की। उन्होंने पीडब्लूडी के अधिकारियों को शौचालयों का निर्माण प्राथमिकता के साथ करने कहा तथा जिला शिक्षा अधिकारी को इसकी सतत् निगरानी करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने भुईयां साफ्टवेयर में प्रवष्टि के कार्य में प्रगति लाने कहा। चकरभाठा, मस्तूरी, कोटा, तखतपुर एवं लिंगियाडीह में प्रस्तावित शासकीय इंग्लिश मीडियम स्कूल का प्राक्कलन शीघ्र बनाने कहा।

कलेक्टर ने मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत् संचालित मोबाईल मेडिकल यूनिट, लोक सेवा गारंटी, कोरोना वैक्सीनेशन एवं टीएल के लंबित आवेदनों की समीक्षा की। बैठक में अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी बी.एस.उईके, अपर कलेक्टर नुपूर राशि पन्ना, वन मण्डलाधिकारी कुमार निशांत, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी हैरीश एस, सभी एसडीएम, तहसीलदार एवं अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *