उड़ान 3.0 के तहत उपलब्ध बिलासपुर-दिल्ली और बिलासपुर-कोलकाता रूट पुनः उपलब्ध कराया जाये,विधायक धरमजीत सिंह की मांग

बिलासपुर-हवाई सुविधा जनसंघर्ष समिति का अखण्ड धरना 233वें दिन भी जारी रहा और आज इसमें पुनः एक बार लोरमी के विधायक धरमजीत सिंह ने भागीदारी की। समिति ने महानगरों तक सीधी उड़ान की मांग को दोहराते हुए कहा कि बिलासपुर हवाई अड्डे के विकास से केन्द्र सरकार के उपक्रमों जिनका मुख्यालय बिलासपुर है, के अधिकारियों का रायपुर जाने का खर्चा बचेगा।सभा में बोलते हुए विधायक धरमजीत सिंह ने केन्द्र सरकार से मांग की कि उड़ान 3.0 योजना में 2018 के दौरान वी.जी.एफ सब्सिडी के साथ बिलासपुर-दिल्ली और बिलासपुर-कोलकाता रूट उपलब्ध था हालाकि उस वक्त एयरपोर्ट तैयार नहीं होने के कारण कोई भी उड़ान स्वीकृत नहीं हुई। यद्यपि 2018 उड़ान 3.0 के दौरान स्वीकृत रूटों में अभी भी कई चालू नहीं हुए है और दरभंगा से महानगरों तक उड़ाने उड़ान 3.0 के तहत हाल ही में चालू हुई है। इस आधार पर बिलासपुर एयरपोर्ट के विकास के लिए उड़ान 3.0 के तहत उपलब्ध बिलासपुर-दिल्ली और बिलासपुर-कोलकाता रूट को पुर्नजीवित किया जा सकता है। एैसा होने पर बिलासपुर से महानगरों तक सुविधा देने में आसानी होगी।

सभा में बोलते हुए समिति के महेश दुबे ने केन्द्र सरकार पर दबाव बढ़ाने के लिए आंदोलन के विस्तार पर बल दिया वही मनोज तिवारी ने भी केन्द्र सरकार के उपक्रमों के अधिकारियों से सम्पर्क कर उनसे भी केन्द्र सरकार पर दबाव बढ़ाने की बात कही। सभा में बोलते हुए सी.एल. मीणा ने बिलासपुर के साथ किये जा रहे भेद भाव की कड़े शब्दों में निंदा की। सभा के अन्त में आभार प्रदर्शन बद्री यादव के द्वारा किया गया।

आज के हवाई सुविधा अखण्ड धरने में सर्वश्री कमल सिंह ठाकुर, देवेंन्द्र सिंह ठाकुर, अशोक भण्डारी, समीर अहमद, ब्रम्हदेव सिंह ठाकुर, चित्रकांत श्रीवास, संजय पिल्ले, सुशांत शुक्ला, मनोज श्रीवास, केशव गोरख, पप्पू तिवारी, सालिकराम पाण्डेय नरेश यादव, नवीन वर्मा, अकिल अली, संतोष पीपलवा, विभूतिभूषण गौतम, राजेश यादव, दिनेश रजक, बबलू जार्ज, चूक्की अग्रवाल, मंगल सिंह, सावर अली और सुदीप श्रीवास्तव शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *