मेरा बिलासपुर

छात्रा को थाने में बैठाने का विरोध….जोगी छात्र विंंग का आरोप..प्रबंधन और प्रशासन में मिली भगत…

IMG-20171211-WA0009रायपुर–छत्तीसगढ़ छात्र संगठन जोगी और पालक संघ के सैंकड़ों लोग रायपुर कलेक्टर कार्यालय के सामने मुंह पर पट्टी बांधकर धरना दिया।  सेंट जेवियर स्कूल प्रबंधन पर 11 वीं की छात्रा से दुर्व्यवहार का आरोप लगाया। जोगी कार्यकर्ताओं ने प्रबंधन एफआईआर दर्ज करने की भी मांग की है। इसके अलावा प्रशासन पर सेंट जेवियर स्कूल प्रबंधन के साथ मिली भगत का भी आरोप लगाया है।

                      जोगी छात्र संगठन और पालक संघ ने रायपुर कलेक्टर कार्यालय के सामने मुंह पर पट्टी बांधकर धरना प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन से सेंट जेवियर प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। प्रदर्शनकारियों ने जिला प्रशासन को बताया कि 9 दिसम्बर को रायपुर स्थित सेंट जेवियर स्कूल प्रबंधन ने 11वीं की छात्र को फीस ना पटाया जाने पर दुर्व्यवहार कर बिना पालकों को सूचित किए तेलीबांधा थाने में कई घंटे बैठाए रखा।

                    घटना के विरोध में छत्तीसगढ़ छात्र संगठन जोगी प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप साहू कार्यकर्ताओं के साथ शनिवार को थाने का घेराव कर एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए सोमवार को प्रशासन ने एडीएम, जिला शिक्षा अधिकारी बंजारा, स्कूल प्रबंधक और पालकों के बीच सिविल लाइन में बैठक आयोजित की। बैठक में शहर के गणमान्य नागरिक शामिल हुए। एडीएम दीवान ने कहा कि बैठक में सिर्फ पालक, स्कूल प्रबंधक के लोग ही रहेंगे। इसके अलावा सभी लोग बाहर चले जाएं। एडीएम के रवैये से नाराज प्रदीप साहू ने कहा कि एक प्रशासनिक अधिकारी को स्कूल का एजेंट बनकर बात नहीं करना चाहिए। इसके बाद पालकों के साथ जोगी छात्र संगठन बैठक का बहिष्कार कर कलेक्टर से मिलने गए।

                      करीब तीन घंटे तक कलेक्टर कार्यालय के सामने सभी ने मुंह पर पट्टी बांधकर प्रदर्शन किया। जिला प्रशासन का एक भी नुमाइंदा प्रदर्शनकारियों से मिलने नहीं आया। अंत में पालक और जोगी छात्र संगठन ने पुलिस कप्तान से लिखित शिकायत कर प्रबंधन के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग करते हुए कोर्ट जाने की बात कही।

अमृत मिशन के अंतर्गत राज्य विकास की ओर अग्रसर

                      छत्तीसगढ़ छात्र संगठन जोगी के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप साहू ने बताया कि एक तरफ सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देती है।  सबका साथ सबका विकास की बात करती है। इसके विपरीत राजधानी के एक स्कूल में तुगलकी चाल चलन के खिलाफ प्रशासन मौन है। साहू ने कहा किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।


Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS