बिलासपुर को बना दिया महाखोदापुर..बृजमोहन ने कहा..ढाई साल में गिर गयी लोकप्रियता..सरकार दे रही माफियों को संरक्षण..17 जून का इंतजार

बिलासपुर–प्रदेश सरकार के ढाई साल…के काम काज को लेकर भाजपा के दिग्गज नेता बृजमोहन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से हिसाब मांगा है। बृजमोहन ने पत्रकार वार्ता में बताया कि देश की ऐसी पहली सरकार है। जिसकी मात्र ढाई साल में ही लोकप्रियता घट गयी है। प्रदेश में अब कानून की नहीं बल्कि माफियों का राज चलता है। कहें तो माफियों को प्रदेश सरकार का संरक्षण हासिल है। सवाल जवाब के दौरान भाजपा नेता ने बताया कि 17 जून के बाद ही पता चलेगा कि क्या यह सरकार रहेगी।

                बृजमोहन अग्रवाल ने आज प्रेस वार्ता कर प्रदेश सरकार के ढाई साल के कामकाज का ना केवल हिसाब मांगा बल्कि जमकर निशाना भी साधा है। भाजपा के दिग्गज नेता ने कांग्रेस के जनघोषणा पत्र को लहराते हुए कहा कि शायद देश का पहला राज्य है…जहा की सरकार कोरोना काल में दवाई की जगह..होम डिलेवरी में शराब भेजती है। पिछले ढाई साल में सरकार ने जनता के साथ सिर्फ विश्वासघात और धोखाधड़ी का खेल खेला है। 

                        बृजमोहन ने बताया कि प्रदेश में सरकार से ज्यादा माफियों की आमदनी है। सरकार का कोष है। लेकिन माफियों के खजाने में धन की कमी नहीं है। रमन सिंह के 15 साल की सरकार में प्रदेश पर 30 हजार करोड़ का कर्ज था। लेकिन भूपेश सरकार ने मात्र ढाई साल में प्रदेश पर 40 करोड़ का अतिरिक्त कर्ज चढ़ गया है। उन्होने कहा कि ढाई साल में रेत माफिया, जमीन माफिया, ट्रांसफर माफिया,कोयला माफिया, शराब माफियों की सक्रियता बढ़ गयी है। अब तो लोग घर घर शराब…हर हर शराब का नारा लगाने लगे हैं। 

          भाजपा नेता ने बताया कि प्रदेश की ..कानून व्यवस्था चरमरा गयी है। अपराध का ग्राफ बढ़ गया है। पिछले दो साल में 1828 की हत्या हुई है। 1281 लोगों पर हत्या का प्रयास हुआ है। 4939 बलात्कार के प्रकरण सामने आए हैं। 12862 घटनाएं चोरी की है। 133 डकैती के मामले सामने आए है। 855 लूट पाट की घटना हुई है।

               सवाल जवाब के दौरान बृजमोहन ज्यादातर सवालों से बचते नजर आए। सीएसआर, वैक्सीन और महंगाई को लेकर बृजमोहन ने पत्रकारों को ना केवल गोलमोल जवाब दिया। बल्कि उन्होने कहा कि हम कूप मंडूप होने में विश्वास नहीं करते हैं।

                 पत्रकार वार्ता में बृजमोहन ने पीएससी में आरजकता और भ्रष्टाचार का भी आरोप लगाया। शिक्षक भर्ती पर सरकार के खिलाफ जमकर निशाना साधा। लेकिन सीएसआर फण्ड को लेकर प्रधानमंत्री को पत्र लिखने के सवाल को अनसुना कर दिया।

200 करोड़ कहां

पूर्व मंत्री ने इस दौरान  चिरपरिचित अंदाज में अपना तेवर भी दिखाया। साथ ही भूपेश सरकार से ढाई साल का हिसाब किताब भी मांगा। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा अमर अग्रवाल के प्रयास से बिलासपुर को स्मार्ट सिटी की सूची में शामिल किया गया। एक हजार करोड़ के प्रोजेक्ट में बिलासपुर को 200 करोड़ अब तक मिल चुके हैं। लेकिन काम के नाम पर आज तक कुछ नहीं हुआ है। मतलब 200 करोड़ जस का तस जमा है।

               बृजमोहन ने बताया कि बिलासपुर की हालत पर चिंता जाहिर की। उन्होने कहा कि नगर निगम सीमा का विस्तार तो कर दिया गया। लेकिन विकास के नाम पर शामिल किए गए 17 ग्रामीण क्षेत्रों की हालत बहुत ही खराब है। मतलब जिस उद्देश्य से निगम सीमा का विस्तार किया गया। उसका फायदा अभी तक ग्रामीण क्षेत्रों को नहीं मिला है।

              भाजपा के दिग्गज नेता ने कहा कि कांग्रेस सरकार के ढाई साल पूरे हो चुके है। लेकिन आज तक अरपा भैंसाझार का नहर निर्माण पूरा नहीं हुआ है। जबकि अरपा भैंसाझार परियोजना से 25 हजार एकड़ क्षेत्र की सिंचाई होनी है। लेकिन नहर का निर्माण नहीं होने से किसानों को इसका कोई फायदा नहीं मिल रहा है। 

               बृजमोहन ने भूपेपश सरकार पर माफियों को संरक्षण देने का भी आरोप लगाया। उन्होने कहा कि ऐसा कोई दिन नहीं…जब अखबारों में माफियों की कहानी नहीं पढ़ने को मिलती हो। बिलासपुर में रेत माफिया, जमीन माफिया, कोयला माफिया और गुंडो का राज हो गया है। मारपीट हत्या की रोज खबरें मिलती है। समझ में नहीं आ रहा है कि आखिर बिलासपुर में यह सब हो क्या रहा है।

                        बृजमोहन अग्रवाल ने पत्रकार वार्ता में बिलासपुर की दयनीय स्थिति को लेकर ना केवल चिंता जाहिर की। बल्कि उन्होने यह भी कहा कि दो दिन पहले ही कांग्रेस नेता किसी मामले में लड़ाई झगड़ा को अंजाम दिया है। इससे समझा जा सकता है कि यहां कानून व्ववस्था की क्या स्थिति है। सीजीवाल बिलासपुर।      

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *