अपने जाल में फंस गए किसान नेता द्वारिकेश..भूपेश को कहा झूठ का पुलिंदा..मीडिया पर लगाया आरोप

Editor
4 Min Read

IMG20171130132142बिलासपुर– भाजपा प्रदेश किसान मोर्चा महामंत्री द्वारिकेश पाण्डेय ने पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल पर झूठ बोलने और सरकार के खिलाफ दुष्प्रचार का आरोप लगाया है। भाजपा सरकार हमेशा किसान और गरीबों के हितैषी रही है। मीडिया भी कांग्रेस का साथ दे रहा है। प्रदेश में अभी तक एक भी किसान भूख और भय से नहीं मरा है। शिक्षाकर्मियों की भी मौत बीमारी से हुई है। कांग्रेस के इशारे पर झूठ लिखा जा रहा है। सरकार ने किसी भी किसान की बिजली  काटे जाने और जेल भेजने की धमकी नहीं दी है।  यदि किसी के पास प्रमाण है तो सामने लाए। इतना सुनते ही पत्रकार भड़क गए। उल्टा द्वारिकेश पाण्डेय को कह डाला कि यदि झूठ लिखा गया है तो आपके पास जो भी प्रमाण हैं उसे दिखाएं।

Join Our WhatsApp Group Join Now

भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश महामंत्री ने प्रेसवार्ता के दौरान पेपर दिखाते हुए कहा कि सब कुछ कांग्रेस के इशारे पर लिखा पढ़ा जा रहा है। ना तो किसान की मौत भूख से हुई है। और शिक्षाकर्मियों की हड़ताल से…। अब तक जितनी भी मौत हुई सब स्वभाविक है। द्वारिकेश ने बताया कि झूठ को सच बनाने की साजिश हो रही है। भूपेश बघेल ने भाजपा नेताओं पर मोटी चमड़ी होने का आरोप लगाया है। जबकि खुद कांग्रेस नेता संवेदनहीन हैं। उन्हें किसानों का हित और सरकार की जन हितैषी योजनाओं से घबराहट होने लगी है। कांग्रेसी गरीबों का भला नहीं देखना चाहते हैं।द्वारिकेश ने कहा कि किसान मौत की खबर छपने के बाद राजनांदगांव और कवर्धा जाकर परिवार के सदस्यों से मिला। उन्होने बताया कि किसान की मौत बीमारी से हुई है। लेकिन द्वारिकेश पाण्डेय  पत्रकारों के सवालों का जवाब नहीं दे पाए कि वह जिस किसान से मिलने गए थे उसका नाम क्या है।


बोनस पर्याप्त मिला…संकल्प भी सही
एक सवाल के जवाब में द्वारिकेश ने बताया कि मुझे लगता है कि किसानों को पर्याप्त बोनस मिला है। चार साल का बोनस क्यों नहीं मिला..उन्होने सवाल को टाल दिया। जब दिया गया बोनस पर्याप्त है तो भाजपा के संकल्प पत्र में 2100 रूपए समर्थन मूल्य और 300 रूपए बोनस देने का वादा क्यों किया गया। द्वारिकेश ने यहां भी सवाल को टाल दिया। दबाव में कहा कि संकल्प पत्र भी ठीक है। क्योंकि इसमें पांंच साल की रूपरेखा के बारे में बताया गया है।

कांग्रेसियों ने फैलाया अफवाह

             द्वारिकेश ने कांग्रेस और मीडिया पर अफवाह फैलाने का आरोप लगाया। उन्होने कहा कि सरकार ने ऐसा कोई आदेश नहीं दिया है कि रबी में खरीफ की फसल लेने पर किसानों को जेल भेज दिया जाएगा। नलकूप की  बिजली काट दी जाएगी। यदि किसी के पास ऐसा आदेश हो तो आकर दिखाए। पत्रकारों ने बताया कि टीएल बैठक में ऐसा ही कहा गया है..चाहें तो जनसम्पर्क कार्यालय से जानकारी ले सकते हैं। इसके बाद द्वारिकेश चुप हो गए। उन्होने सवाल का जवाब नहीं दिया कि आखिर क्या कारण है कि सरकार और अधिकारियों में तालमेल नहीं है।

close