भाजपा नेत्रियों ने जलाया पुतला..सीएम ने किया महिलाओं का अपमान..चौकसे और केशरवानी ने कहा..बेनकाब हुआ कांग्रेसियों का असली चेहरा

बिलासपुर—सूरजपुर घटनाक्रम को लेकर भाजपा महिला मोर्चा ने पुराना बस स्टैण्ड स्थित श्याम प्रसाद मुखर्जी चौक पर मुख्यमंत्री का पुतला जलाया। भाजपा नेत्रियों ने इस दौरान जमकर नारेबाजी भी की। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को महिला विरोधी भी बताया।
                भाजपा नेत्री जयश्री चौकसे ने बताया कि सूरजपुर में आयोजित भेट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने महिला का अपमान किया है। मुख्यमंत्री का महिला के साथ इस तरह का व्यवहार सभ्य समाज में उचित नहीं है। प्रदेश मुखिया पर निशाना साधते हुए चौकसे ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इन दिनों हेलीकाप्टर से प्रदेश भर में दौरा कर झूठी वाहवाही लूट रहे हैं।
             सूरजपुर में भेट मुलाकात के दौरान पीड़ित महिला का उन्होने सार्वजनिक अपमान किया है। महिला के साथ अभद्र व्यवहार शर्मसार करने वाली घटना है। इससे साबित होता है कि  कांग्रेसियों के मन में महिलाओं के प्रति कोई संवेदना नही है। 
             जयश्री चौकसे ने कहा कि कांग्रेस की राष्ट्रीय नेता प्रियंका गांधी ने नारा दिया है नारी हूॅ लड़ सकती हूॅ। इसलिए जरूरी है कि भूपेश बघेल को दिल्ली जाकर प्रियंका गांधी से ट्रेनिंग लेना चाहिए। उन्हें पूछना चाहिए कि क्या महिलाओं से इसी तरह का व्यवहार किया जाना चाहिए। दरअसल सूरजपुर की घटना से कांग्रेस का चाल चरित्र और चेहरा सामने आ गया है। दरअसल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का यही असली चेहरा है। 
                भाजपा  युवा मोर्चा  जिलाध्यक्ष निखिल केशरवानी ने भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के व्यवहार को लेकर आक्रोश जाहिर किया। उन्होने कहा कि सूरजपुर के कार्यक्रम के दौरान महिला  के साथ मुख्यमंत्री जैसा व्यवहार किया है उसकी किसी को उम्मीद नहीं थी। मुख्यमंत्री का व्यवहार घोर निंदनीय है।  जो मुख्यमंत्री महिलाओं का सम्मान नही कर सकता उसे मुखिया के पद पर रहने का कोई अधिकारी नहीं है।
               केशरवानी ने बताया कि मुख्यमंत्री प्रदेश के दौरे में है। उन्हें पता चल चुका होगा कि जनता में कांग्रेस सरकार के खिलाफ जमकर नाराजगी है। पुतला दहन कार्यक्रम के दौरान मौके पर मौजूद भाजपा नेत्रियों ने मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
             इस दौरान विभा गौरहा, राकेश चंद्राकर, गायत्री साहू, नीरजा सिन्हा, सुनीता मानिकपुरी, अनमोल झा, इंशु गुप्ता, मंजुला सिंह, संध्या चौधरी, बबीता ताम्रकार, शोभा कश्यप, मनीषा नन्दी, चंदना गोस्वामी, रजनी यादव, महर्षि बाजपेयी, मोनू रजक, आशीष तिवारी, मुकेश राव, नितिन छाबड़ा, वैभव गुप्ता, प्रभा तिवारी, वंदना तिवारी, माया पमनानी, रीना गोस्वामी, किरण सिंह, मनीषा धुमाल, योगिता सिंह, सुजाता माणे, पूनम शुक्ला, स्मृति जैन, मीनाक्षी बोमर्डे, बीना तिवारी, दीपशिखा यादव, स्मृता नामदेव, चंचल कुशवाहा, शकीना बेगम, दीपा गंधर्व, अर्चना मल्लेवार, प्रतिमा सिदार, देवकी धीवर, बुद्धेश्वर शर्मा, मनीष सिहारे, संदीप केशरी, देवेश खत्री, साहिल कश्यप, राहुल सिंह, धनंजय गोस्वामी, यश गौरहा, अशोक राजपूत सहित मोर्चा के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *