मेरा बिलासपुर

छत्तीसगढ़ पर BJP का फोकस , घेराव- प्रदर्शन,अमित शाह के दौरे के बाद अब आएंगे नड्डा, 25 हजार कार्यकर्ताओं का बड़ा सम्मेलन होगा

रायपुर । आने वाले साल 2023 के विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी लगातार छत्तीसगढ़ पर फोकस कर रही है। इस सिलसिले में कुछ दिन पहले ही बेरोजगारी और भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों पर पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं ने बड़ा प्रदर्शन किया। इसके ठीक बाद छत्तीसगढ़ के दौरे पर आए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी बीजेपी शिविर में हौसलाआफजाई कर लौटे । अब इस कड़ी में सितंबर महीने में बीजेपी छत्तीसगढ़ में एक और बड़ा कार्यक्रम करने जा रही है। 9 सितंबर को रायपुर में एक कार्यकर्ता सम्मेलन हो रहा है। जिसमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा मौजूद रहेंगे और इसमें छत्तीसगढ़ के करीब 25000 कार्यकर्ताओं के शामिल होने की तैयारी है।

जिन लोगों ने 2003 के पहले विधानसभा चुनाव के ठीक पहले भाजपा की तैयारी देखी है ,उन्हें अंदाज है कि बीजेपी किस रणनीति के हिसाब से आगे बढ़ती है। उस समय भी प्रदेश में अजीत जोगी के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार थी और केंद्र में बीजेपी सत्ता में थी। समय बीजेपी ने कार्यकर्ताओं को रिचार्ज करने के लिए जमीनी स्तर पर कई

कई कार्यक्रम आयोजित किए थे। इसके साथ ही दिल्ली से लगातार बड़े नेताओं के दौरे लगातार होते रहे। उस समय राजनाथ सिंह ,सुषमा स्वराज जैसे कई दिग्गज नेताओं के दौरे से छत्तीसगढ़ बीजेपी में लगातार सक्रियता भी नजर आई थी और आम लोगों के बीच इसका असर भी नजर आने लगा था। माना जा रहा है कि कुछ इसी तरह की रणनीति का रोड मैप बनाकर बीजेपी इस बार भी 2023 के चुनाव की तैयारी में जुट गई है। हाल ही में बीजेपी ने नए प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव और नए नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल की ताजपोशी के साथ ही राजधानी रायपुर में युवा मोर्चा का एक बड़ा आयोजन किया।

जिला प्रशासन का सख्त निर्देश..रावण जलाते समय रखना होगा ध्यान..नहीं बजेगा डीजे,बैण्ड

बेरोजगारी और भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों को लेकर भाजपा के इस आयोजन में भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित कई नेता भी जुटे और प्रदेश भर से कार्यकर्ताओं की भीड़ भी जमा हुई थी। लंबे अरसे के बाद बीजेपी सड़क पर इस तरह का प्रदर्शन करने में कामयाब रही। खासकर प्रदेश के नौजवानों के बीच मैसेज भेजने की कोशिश में यह आयोजन चर्चाओं में रहा। इसके तुरंत बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह रायपुर आए। हालांकि उनका यह दौरा एनआईए के दफ्तर के उद्घाटन को लेकर था। लेकिन जब तक अमित शाह रायपुर में रहे एयरपोर्ट में उनकी अगवानी से लेकर कई जगह पर छत्तीसगढ़ बीजेपी के बड़े नेताओं के बीच हल चल रही। उनके इस दौरे से भाजपा नेताओं के बीच आत्मविश्वास भी बढ़ा है और आने वाले दिनों में हलचल तेज होने के संकेत भी मिले हैं।

खबर है कि सितंबर में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी छत्तीसगढ़ के दौरे पर आने वाले हैं। वे करीब तीन-चार दिनों तक रायपुर में रहेंगे। सितंबर में 10,11 ,12 तारीख को रायपुर में आर एस एस के प्रमुख लोगों का बड़ा समागम हो रहा है। जिसमें संघ प्रमुख मोहन भागवत भी शामिल होंगे। इस आयोजन में शामिल होने आ रहे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी 9 सितंबर को रायपुर में ठाकरे परिसर के लान में आयोजित बीजेपी कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को भी संबोधित करने वाले हैं। इस सम्मेलन में छत्तीसगढ़ के अलग-अलग हिस्सों से करीब 25 हज़ार कार्यकर्ताओं के शामिल होने की तैयारी है। जिसमें बूथ से लेकर प्रदेश स्तर तक के नेता कार्यकर्ता शामिल होंगे । लगातार कार्यक्रम आयोजित कर पार्टी के लोगों को सक्रिय रखने की रणनीति के तहत अरुण साल के नेतृत्व में काम तेजी से आगे बढ़ाने की तैयारी नजर आने लगी है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS