ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष का जवाब..पहले उसने..फिर मैने दिया गाली..नायक ने बताया..बन्द लिफाफा में मिला सफाईनामा..अब प्रदेश अध्यक्ष करेंगे फैसला

बिलासपुर– विवादास्पद रेलवे क्षेत्र ब्लाक 4 के अध्यक्ष मोती ठारवानी ने 24 घन्टे के अन्दर अपना जवाब जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद नायक के सामने पेश कर दिया है। प्रमोद नायक ने बताया कि जवाब बन्द लिफाफा में मिला है। पीसीसी अध्यक्ष के सामने अन्य जानकारियों के साथ मंगलवार को पेश कर दिया जाएगा।

                      बताते चलें कि शनिवार को रेलवे क्षेत्र ब्लाक कांग्रेस नेता मोती ठारवानी का श्रीकांत वर्मा मार्ग में पुलिस जवान के साथ गाली गलौच और धमकी देने वाला वीडियो वायरल हुआ। वीडियो की जानकारी के बाद पीसीसी प्रमुख मोहन मरकाम ने जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद नायक को तलब किया। मोती ठारवानी की तरफ से पुलिस के प्रति वीडियों के अनुसार किए गए वर्ताव को गंभीरता से लेते हुए स्पष्टीकरण मांगने को कहा।

                 पीसीसी के निर्देश पर प्रमोद नायक ने मोती ठारवानी को नोटिस जारी कर 24 घंटे के अन्दर जवाब देने को कहा। सोमवार को मोती ठारवानी ने समय के अन्दर जवाब प्रमोद नायक को सौंप दिया है। 

               सूत्रों ने बताया कि मोती ठारवानी अपने जवाब में खुद को बेगुनाह होना बताया है। स्पष्टीकरण में बताया कि परिवार के साथ श्रीकांत वर्मा स्थित एक दुकान गया। गाड़ी मोड़कर जब जाने लगा तो पुलिस जवान ने रोक लिया। रांग साइड चलाने का आरोप लगाते हुए गाड़ी को जब्त कर लिया। समझाने का प्रयास किया लेकिन जवान ने परिवार के सामने गाली गलौच करना शुरू कर दिया। जवाब में फिर उसने भी गाली देने के साथ देख लेने की बात कही। 

झूठी जानकारी

                       सूत्रों के अनुसार मोती ने स्पष्टीकरण में  दोनों के बीच सुलहनामे की भी बात कही है। मोती के अनुसार विवाद के बाद दोनों सिविल लाइन थाना गए। थानेदार के सामने दोनों के बीच सुलहनामा भी हुआ। बावजूद इसके उसके खिलाफ गैर जमानती धाराओं में अपराध दर्ज किया गया। यद्यपि उसने तोरवा थाना में लिखित शिकायत की। लेकिन उसकी फरियाद को नही सुना गया। 

बन्द लिफाफा मिला जवाब

 जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद नायक ने बताया कि मोती ठारवानी ने बन्द लिफाफा में अपना जवाब पेश किया है। लिफाफा को पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम के सामने मंगलवार को पेश किया जाएगा। साथ में वीडियो समेत अन्य मांगी गयी जानकारी भी रखूंगा। मोती ठारवानी के खिलाफ क्या कुछ निर्णय होगा। इसका फैसला पीसीसी अध्यक्ष करेंगे।    

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *