बृजमोहन बोले..तब कहां थे आदिवासी हितैषी.. पतन एनडीए का नहीं,कांग्रेस का..अरूण प्रदेश में बनवाएंगे भाजपा सरकार..पार्टी का फैसला सर्वोंपरि

बिलासपुर— भारतीय जनता पार्टी नेता बृजमोहन अग्रवाल एक दिवसीय प्रवास पर बिलासपुर पहुंचे। उन्होने कहा कि चुनाव और युद्ध के पहले वर्जिश किया जाता है। संगठन में भी ऐसा ही होता है। उसी प्रक्रिया के तहत आज बैठक हुई। बैठक में संगठन को मजबूत के साथ ही झण्डा वितरण को चर्चा हुई। बृजमोहन ने बताया कि आदिवासी हितैषी उस समय कहां थे..जब राष्ट्रपति प्रत्याशी मुर्मु वोट मांगने आयी थी। और आदिवासी विधायकों ने वोट नहीं दिया। पतन एनडीए का नहीं..बल्कि कांग्रेस का हो रहा है।
            बृजमोहन अग्रवाल एक दिवसीय प्रवास पर बिलासपुर पहुंचे। कार्यकर्ताओ और नेताओं के साथ बैठक के बाद पत्रकारों से रूबरू हुए। पूर्व मंत्री ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर इस समय देश में झण्डा रोहण का ज्वार उठा है। झण्डा की कमी होने लगी है। लेकिन सभी घरों तक हर हालत में झण्डा पहुंचाया जाएगा। प्रदेश में 25 लाख घरों में झण्डा फहराने का हमने लक्ष्य रखा है। बिलासपुर जिले में एक लाख झण्डा फहराया जाएगा। घर का सबसे छोटा सदस्य ही झण्डा फहराएगा। ताकि उनमें अपने देश के प्रति गर्व मान सम्मान महसूस हो।
                    संगठन में तेजी से बदलाव हुआ है। आखिर इसकी वजह क्या है।  यह सामान्य प्रक्रिया है। चुनाव और युद्ध के पहले वर्जिश की प्रक्रिया होती है। ऐसा यहा भी है। नए अध्यक्ष अरूण साव योग्य और पार्टी विचारधारा के है। उनकी अगुवाई में चुनाव जीतेंगे..कांग्रेस को उखाड़कर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनाएंगे।
                   मुख्यमंत्री के बयान एनडीए पतन के सवाल पर बृजमोहन ने कहा .एनडीए नही बल्कि कांग्रेस का पतन हो गया है। पहले उत्तरप्रदेश,उत्तराखण्ड और आसाम में हार के बाद अब गुजरात और हिमांचल प्रदेश की बारी है।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि ठीक आदिवासी दिवस पर आदिवासी को पद से हटाया गया। बयान पर बृजमोहन ने बताया कि आदिवासी हितैषी उस समय कहां थे..जब राष्ट्रपति प्रत्याशी दोपदी मुर्मु वोट मांगने आयी थी। तब आदिवासी की याद नहीं आयी।
           नेता प्रतिपक्ष बनाए जाने की चर्चा चल रही है..उन्होने कहा कि इच्छा रखना बुरी बात नहीं है। लेकिन पार्टी का फैसला सर्वोपरि है।           

Leave a Reply

Your email address will not be published.