Byjus 200 ट्यूशन सेंटर बंद करेगा

Shri Mi
2 Min Read

नई दिल्ली/संकट में फंसी एडटेक कंपनी Byjus कथित तौर पर अपने नवीनतम लागत-कटौती कदम के तहत देशभर में अपने 300 केंद्रों में से लगभग 200 ऑफलाइन ट्यूशन केंद्रों को बंद करने की योजना बना रही है।कंपनी का इरादा अगले महीने से केंद्रों को छोड़ने का है। कंपनी ने यह फैसला फरवरी में 50 केंद्रों को बंद करने के बाद लिया है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

कैपटेबल विकास की रिपोर्ट करने वाला पहला व्यक्ति था।Byjus  के ट्यूशन सेंटर या बीटीसी को कंपनी के लिए प्राथमिक विकास इंजन के रूप में देखा जाता था, जो 2023 की शुरुआत तक कार्यक्षेत्र का विस्तार कर रहा था।

Byjus ने पिछले हफ्ते अपने सभी कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए बाध्य किया, क्योंकि इसने कई नकदी संकटों के बीच देशभर में कार्यालय स्‍थल छोड़ दिए। इसने अपने 300 ऑफलाइन ट्यूशन केंद्रों पर काम करने वालों पर रोक लगा दी।

विकास से जुड़े करीबी लोगों ने आईएएनएस को बताया कि कंपनी ने पट्टे खत्‍म होने के कारण कार्यालय स्‍थल छोड़ दिया है, केवल बेंगलुरु स्थित मुख्यालय को अपने पास रखा है।

कार्यालय छोड़ने का कदम बायजू’स के भारत के सीईओ अर्जुन मोहन के नकदी बचाने के प्रयास का हिस्सा था, क्योंकि राइट्स इश्यू से प्राप्त आय (लगभग 250-300 मिलियन डॉलर) चुनिंदा निवेशकों के साथ झगड़े के बीच फंसी हुई है।

इस बीच, बायजू’स ने फरवरी महीने के लिए 20,000 से अधिक कर्मचारियों के लंबित वेतन का एक हिस्सा बांट दिया है।

कंपनी ने कर्मचारियों को लिखे एक पत्र में कहा, “हमने राइट्स इश्यू से बाहर प्राप्त होने वाली पूंजी की सीमा तक फरवरी तक का वेतन सभी को आंशिक रूप से देने की प्रक्रिया शुक्रवार को देर रात पूरी की। हमें उम्मीद है कि राइट्स इश्यू फंड उपलब्ध होने के बाद कंपनी शेष राशि का भुगतान जल्द ही करेगी।”

By Shri Mi
Follow:
पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
close