VIDEO-आयीं थी प्रदर्शन करने..बीच सड़क में..कांग्रेस नेत्रियों ने किया जमकर हंगामा..जमकर हुआ तू-तू,मै-मैं का खेल..फिर सांसद बंगला का घेराव

बिलासपुर— महिला कांग्रेस विंग ने आज पेट्रोलियम मूल्य वृद्धि और महंगाई के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया। साथ ही आपस में भी जमकर झगड़ा किया। झगड़ा ज्ञापन दिए जाने को लेकर था। खुले सड़क पर पत्रकारों के सामने महिला नेत्रियों के झगड़ा का आम लोगों ने भी बहुत संजीदगी के साथ ना केवल देखा बल्कि सुना भी। यद्यपि दोनो यानि शहर और ग्रामीण महिला कांग्रेस की अध्यक्ष मामले को संभालने का भरपूर प्रयास किया। बावजूद इसके सारा मामला लोगों के कैमरों में कैद हो गया। किसी तरह महिला नेत्रियों का क्रोध शांत हुआ। इसके बाद केन्द्र सरकार और प्रधानमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। रैली के साथ सांसद अरुण साव के सरकारी निवास स्थान पहुंचकर घेराव किया। सीमा पाण्डेय और अनिता लव्हात्रे ने ज्ञापन देकर महंगाई समेत पेट्रोलियम के दामों में कमी किए जाने की मांग की।

                       कांग्रेस की  महिला विंग ने आज नेहरू  चौक में पेट्रोलियम  पदार्थों में मूल्य बृद्धि और महंगाई के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया। केन्द्र सरकार और प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। 

            विरोध प्रदर्शन के दौरान ही यकायक दोनो अध्यक्षों के पहुंचने के बाद महिला नेत्रियां आग बबूला हो गयीं। नेत्रियों ने पत्रकारों के सामने ही दोनो अध्यक्षों के खिलाफ जमकर हंगामा किया। बात तू-तू मै-मै तक पहुंच गयी। यद्यिप इस दौरान शहर अध्यक्ष सीमा पाण्डेय और ग्रामीण अध्यक्ष अनिता लव्हात्रे ने सभी को भरपूर मनाने का प्रयास किया। लेकिन मामला तब तक शांत नहीं हुआ जब तक सभी नेत्रियों का दोनों  अध्यक्षों के प्रति गुबार पूरा नहीं निकल गया।

आयी थी विरोध करने..आपस में ही हो गया विरोध

                  महिला कांग्रेस नेत्रियां यद्यपि आयी थी केन्द्र सरकार और महंगाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने। लेकिन करीब 20 मिनट तक आपस में ही झगड़ने लगीं। नाराज नेत्रियों ने बताया कि हमें  धरना प्रदर्शन करने बुलाया गया। बताया गया था कि सामुहिक रूप से रैली बनाकर कलेक्टर कार्यालय और सांसद निवास जाएंगे। लेकिन दोनो अध्यक्ष बिना कुछ बताए कलेक्टर को ज्ञापन देने चलीं गयी। कम से कम बता तो देती। लेकिन दोनों ने अंधेरे में रखा। जबकि हम भी अपना परिवार छोड़कर आए हैं। ऐसे में हमारा आने का क्या मतलब रह जाता है। इससे अच्छा होता कि हम घर में ही रहते। लेकिन अब धोखा नहीं होगा। 

कलेक्टर को ज्ञापन दिया

            अनिता लव्हात्रे और सीमा पाण्डेय ने बताया कि कलेक्टर ने केवल दो लोगों को ही ज्ञापन देने के लिए बुलाया था। कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए हम दो लोग ही कलेक्टर को ज्ञापन देने गए। इस बात को लेकर लोग नाराज है। दोनो नेत्रियों ने इस बात को स्वीकार किया कि हमने इस बात की जानकारी नहीं दी। अब आगे ध्यान रखा जाएगा।

          सीमा पाण्डेय ने कहा कि कुछ लोगों की आदत होती है सिर्फ विरोध के विरोध करना। सच तो यह है कि मामला बहुत छोटा है। लेकिन कुछ लोगों ने इसे बड़ा बना दिया है। हम मिलकर बात करेंगे। अनिता लव्हात्रे ने कहा कि परिवार बड़ा है..ऐसा यदा कदा होता रहा है। नाराजगी को शांत कर लिया जाएगा।

 सांसद निवास का घेराव 

       आपसी विरोध शांत होने के बाद महिला कांग्रेस नेत्रियां रैली की शक्त में सांसद निवास पहुंचकर प्रदर्शन किया। इस दौरान जमकर नारेबाजी भी की। सीमा पाण्डेय ने बताया कि डीजल पेट्रोल का दाम आसमान पहुंच गया है। महंगाई की मार से हाहाकार मचा हुआ है। हम सांसद से निवेदन करते हैं कि सदन में महंगाई के खिलाफ आवाज बुलंद करें। प्रधानमंत्री को वस्तु स्थिति से अवगत कराएं।

लोगों ने देखा तू -तू मै-मै का नजारा

             नेहरू चौक में महिला नेत्रियों के बीच होने वाले तू-तू मैं-मैं का नजारा सभी लोगों ने देखा ।कई लोगों ने दबी जुबान में कहा कि हमें आज पता चला कि महिला विंग में भी गुटबाजी होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *