मेरा बिलासपुर

सावधान…तम्बाकू बेचने वालों पर प्रशासन की तिरछी नजर…कलेक्टर ने कहा…RTE बच्चों से भेदभाव का मतलब..सख्त कार्रवाई

बिलासपुर— समय सीमा बैठक में कलेक्टर ने शिक्षा विभाग को सख्त निर्दश दिया कि…आरटीई के तहत दाखिल किसी भी बच्चे से भेदभाव किया गया..तो बर्दास्त नहीं किया जाएगा। इस दौरान कलेक्ट रने जिला शिक्षा अधिकारी नियमित रूप से स्कूलों का निरीक्षण करने को कहा। साथ ही अन्य विभागों की जानकारी लेते हुए लंबित प्रकरणों का तत्काल निराकरण करने को कहा है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

भेदभाव बर्दास्त नहीं

समय सीमा बैठक में कलेक्टर अवनीश शरण ने अधिकारियों को लंबित प्रकरणों का जल्द से जल्द निराकरण करने को कहा है। इस दौरान कलेक्टर ने शिक्षा विभाग को दो टूक कहा कि आरटीई के तहत दाखिला लेने वाले बच्चों के साथ स्कूलो में भेद-भाव नहीं होना चाहिए। यदि ऐसी कुछ शिकायत मिलते ही तो किसी भी सूरत में बर्दास्त नहीं किया जाएगा। कलेक्टर ने डीईओ को आदेश दिया कि नियमित रूप से स्कूलों का निरीक्षण करें। खासकर आरटीई के बच्चों पर विशेष नज़र बनाकर रखें।

कलेक्टर अवनीश शरण ने बैठक में लंबित मामलों और विभागीय काम-काज की समीक्षा करते हुए जरूरी निर्देश दिये। उन्होने कहा कि स्कूलों में एडमिशन संबंधी लंबित शिकायत की जांच कर रिपोर्ट जल्द से जल्द पेश करें। बैठक में निगम आयुक्त अमित कुमार, जिला पंचायत सीईओ रामप्रसाद चौहान समेत विभागीय वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

ओला वृष्टि प्रभावित किसानों को रहात

     कलेक्टर ने बताया कि पिछले दिनों ओला वृष्टि से फसलों को हुई क्षति का सर्वे किया जाए। प्रभावित किसानों को जल्द राहत पहुंचाने के काम को तेज करे। कोटा क्षेत्र के ही बैगा-बिरहोर परिवार के बच्चों के लिए स्थायी जाति प्रमाण पत्र बनाने के लिए शिविर लगाने को कहा । उन्होने बताया कि अभिलेख के अभाव में लगभग सवा 4 सौ बच्चों का स्थायी जाति प्रमाण पत्र नहीं बन पाया है। ऐसे लोगों का ग्राम सभा के अनुमोदन से जाति प्रमाण पत्र बनाएं।

बच्चों करेंगे शहर भ्रमण

कलेक्टर ने बताया कि 22 मई से 10 जून तक जिला मुख्यालय में समर कैम्प का आयोजन किया जायेगा। जिले भर के चुनिंदे 200 ग्रामीण स्कली बच्चे बहतराई स्टेडियम में शामिल होंगे। रूचि के अनुरूप प्रतिभा निखारने विविध कार्यक्रम के साथ ही उन्हें शहर भ्रमण कराया जाएगा। इस दौरान बचचों को  रेल स्टेशन, हवाई अड्डा और अन्य आधुनिक सुविधाओं का अवलोकन कर ज्ञानवर्धन किया जायेगा।

तम्बाकू बेचने वालों पर नजर

टीएल की बैठक में ही राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम के तहत जिला समन्वय समिति की बैठक भी आयोजित की गई। कोटपा एक्ट का कड़ाई से पालन करने को कहा। स्कूल, अस्पताल के 100 मीटर की परिधि में संचालित तम्बाकू बेचने वाले दुकानों के विरूद्व कठोर कार्रवाई का निर्देश दिय़ा। इस दौारन कलेक्टर ने अंतरविभागीय विभिन्न मामलों का समाधान बैठक में लिया।

                   

Back to top button
close