CBSE पेपर लीक:कांग्रेस ने की जांच की मांग,कहा-बर्खास्त हो शिक्षा मंत्री और CBSE चीफ

नईदिल्ली।केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं और 12वीं क्लास के प्रश्न-पत्र लीक होने के मामले में कांग्रेस ने शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से इस्तीफा मांगा है।मामले की निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और सीबीएसई चेयरपर्सन अनीता कारवाल को उनके पद से हटाए बिना इस मामले की निष्पक्ष जांच संभव नहीं है।

कांग्रेस ने इस मामले की हाई कोर्ट के जज से जांच कराए जाने की मांग की है।उन्होंने कहा, ‘व्यापम और एसएससी लीक के बाद अब सीबीएसई के तीन पेपर लीक हो चुके हैं।’ सुरजेवाला ने कहा, ‘छात्रों के मुताबिक कुछ और पेपर भी लीक हुए हैं। 2017 में 12वीं के परीक्षा के पेपर जांचने में भी गलती हुई।’

कांग्रेस प्रवक्ता ने पूछा, ‘आखिर दो सालों तक सीबीएसई के चेयरमैन का पद खाली क्यों रखा गया।’गौरतलब है कि पेपर लीक के बाद दिल्ली में छात्रों का प्रदर्शन जारी है। वहीं पुलिस ने इस मामले में अभी तक 25 से अधिक लोगों से पूछताछ की है।

पेपर लीक को लेकर बचाव में आई सरकार ने साफ किया है कि इसके लिए जिम्मेदार व्यक्तियों को बख्शा नहीं जाएगा।केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

पेपर लीक की वजह से सीबीएसई 10वीं की गणित और 12वीं की अर्थशास्त्र की परीक्षा दोबारा लेगा। हालांकि अभी तक नई तारीकों का ऐलान नहीं किया गया है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए जावड़ेकर ने कहा, ‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है। मैं अभिभावकों और छात्रों के दर्द को समझ सकता हूं। मैं भी एक पिता हूं। इस पेपर लीक में जो भी दोषी होंगे उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।’खबरों के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पेपर लीक को लेकर नाराजगी जताई है।जावड़ेकर ने कहा कि पुलिस जल्द ही दोषियों को गिरफ्तार करेगी। उन्होंने कहा कि जैसे एसएससी मामले में पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया है, वैसे ही इस मामले में भी गिरफ्तारियां होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *