CG Coal Scam: कोयला घोटाले में EOW ने कारोबारियों को भेजा नोटिस

Shri Mi

Chhattisgarh में कोयला घोटाले केस (CG Coal Scam) में EOW की जांच में तेजी आई है। बहुत जल्द अब EOW ने जांच के घेरे में कोयला कारोबार से जुड़े लोगों से भी पूछताछ करने जा रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एजेंसी ने 10 से अधिक कारोबारियों को पूछताछ के लिए नोटिस जारी कर दफ्तर तलब किया है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

Chhattisgarh कोयला घोटाला केस (CG Coal Scam) में बताया जा रहा है कि 50 से अधिक कोयला कारोबारियों की लिस्ट तैयार की गई है, जिन्हें जल्द नोटिस भेजकर पूछताछ के दफ्तर बुलाया जाएगा।

कोयला घोटाले केस में रायपुर की सेंट्रल जेल में बंद निलंबित IAS रानू साहू और सौम्या चौरसिया से एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम जेल में जाकर पूछताछ करेगी। कोल लेवी मामले में दोनों आरोपियों से पूछताछ के लिए ACB- EOW ने रायपुर की स्पेशल कोर्ट में आवेदन लगाया था, जिसे स्वीकार कर लिया गया है।

विशेष न्यायधीश ने 3 दिन के लिए दोनों से पूछताछ की अनुमति दी है। ACB की टीम रायपुर सेंट्रल जेल में जाकर 5 से 7 अप्रैल तक पूछताछ करेगी।

प्रवर्तन निदेशालय के प्रतिवेदन के बाद 17 जनवरी को एंटी करप्शन ब्यूरो ने कोयला घोटाला मामले में FIR दर्ज की थी, जिसके बाद लगातार EOW और ACB जांच कर रही है। इससे पहले जेल में बंद आरोपी निलंबित IAS समीर विश्नोई, शिवशंकर नाग और सूर्यकांत तिवारी से पूछताछ कर चुकी है। स्पेशल कोर्ट ने 29 मार्च से 2 अप्रैल तक पूछताछ के लिए इजाजत दी थी।

छत्तीसगढ़ में कोयला घोटाले मामले में ED के प्रतिवेदन पर ACB /EOW ने दो पूर्व मंत्रियों, विधायकों सहित 36 लोगों के खिलाफ नामजद FIR दर्ज की है, जिस पर अब ACB की टीम जांच तेज कर दी है।

ED की टीम छत्तीसगढ़ में कोल और शराब से जुड़े स्कैम मामले की जांच कर रही है। यह करीब 2500 करोड़ रुपए से ज्यादा है। इसमें कई IAS अफसरों पर शिकंजा कसा जा चुका है। इसके अलावा कई कारोबारी भी जेल में हैं। अब इसमें पूर्व मंत्री भी फंसते दिखाई दे रहे हैं

By Shri Mi
Follow:
पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
close