हमार छ्त्तीसगढ़

CG Naxal News: एंटी नक्सल ऑपरेशन जारी,12 नक्सली ढेर…अस्थाई कैम्प ध्वस्त

CG Naxal News/बीजापुर। शुक्रवार की सुबह थाना गंगालूर क्षेत्रान्तर्गत पीडिय़ा के जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में जवानों ने 12 नक्सलियों को मार गिराया है। पीडिय़ा के जंगल में नक्सलियों के द्वारा स्थापित अस्थाई कैम्प को ध्वस्त किया गया । मौके से बीजीएल लॉंचर , 12 बोर बंदूक, कंटरी मेड रायफल, भारी मात्रा में  विस्फोटक, दवाईयां, माओवादी वर्दी, माओवादी साहित्य एवं  अन्य दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद की गई ।

Join Our WhatsApp Group Join Now

CG Naxal News/पुलिस नक्सली मुठभेड़ पर सीएम विष्णुदेव साय का बयान आया है। सीएम ने 12 नक्सलियों के शव बरामद होने की जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने मुठभेड़ में शामिल जवानों और अधिकारियों को बधाई और शुभकामनाएं दी।

CG Naxal News/ पुलिस के अनुसार जिले में चलाये जा रहे माओवादी विरोधी अभियान के तहत् 8 मई को थाना गंगालूर क्षेत्रान्तर्गत पीडिय़ा के जंगलों में प्रतिबंधित भाकपा माओवादी संगठन पीएलजीए कंपनी नम्बर 02  कमांडर वेल्ला, गंगालूर एरिया कमेटी सचिव दिनेश मोडिय़म एवं अन्य 100-150 सशस्त्र नक्सलियों  की उपस्थिति की आसूचना पर डीआरजी बीजापुर, डीआरजी दंतेवाड़ा, डीआरजी सुकमा, बस्तर फाइटर, एसटीएफ एवं  कोबरा 210, 202, 85 सीआरपीएफकी संयुक्त टीम माओवादी विरोधी अभियान पर निकली  थी ।

CG Naxal News/सर्च अभियान के दौरान 10 मई क ी सुबह 6 बजे पीडिय़ा के जंगल में पुलिस और माओवादियों के बीच अलग-अलग स्थानों पर मुठभेड़ हुई । मुठभेड़ पश्चात् मौके से 12 माओवादियों के शव बरामद किए गए। साथ ही बीजीएल लॉंचर, 12 बोर बंदूक, कंटरी मेड रायफल, बीजीएल सेल, भारी मात्रा में विस्फोटक, माओवादी वर्दी, पिटठू, दवाईया प्रतिबंधित माओवादी संगठन का प्रचार प्रसार की सामग्री एवं माओवादी साहित्य एवं अन्य दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद किया गया ।

सुरक्षा बलों द्वारा अभियान के दौरान पीडिय़ा के जंगल में माओवादियों द्वारा स्थापित अस्थाई कैम्प को ध्वस्त किया गया ।

क्षेत्र में सघन गश्त सर्चिंग की कार्यवाही जारी है ।

गंगालूर थानाक्षेत्र के पीडिय़ा के जंगलों में 12 घंटे तक मुठभेड़ चलती रही। मुठभेड़ खत्म हुआ, एंटी नक्सल ऑपरेशन जारी 

                   

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close