पंचायतों में सचिव के अनुपस्थिति पर होगी कार्रवाई

राजनांदगांव। कलेक्टर डोमन सिंह ने शुक्रवार को डोंगरगांव विकासखंड में विकास कार्यों को गति प्रदान करने ग्राम अर्जुनी एवं मोहड़ में गौठान का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। वहीं  जनपद पंचायत डोंगरगांव में शासन की विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन के निरीक्षण एवं पर्यवेक्षण कार्य की गहन समीक्षा की। कलेक्टर सिंह ने  ग्राम अर्जुनी एवं मोहड़ के गौठान में आजीविका मूलक गतिविधियों को बढ़ावा देने मसाला पीसने की मशीन के लिए प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।उन्होंने गौठान में वर्मी कम्पोस्ट टैंक, सब्जी-बाड़ी का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने भ्रमण प्रतिवेदन की समीक्षा करते कहा कि गौठानों की स्थिति बेहतर है। उन्होंने कहा कि गोधन न्याय योजना के समुचित क्रियान्वयन के साथ ही सभी गौठानों में आजीविका मूलक गतिविधियां निरंतर संचालित होनी चाहिए। उन्होंने विभिन्न ग्राम पंचायत में सचिव के अनुपस्थित पाए जाने पर नाराजगी जाहिर की एवं कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों में लोक सेवा केन्द्र स्थापित करने के लिए स्थान चिन्हांकन के कार्य को प्राथमिकता देते करें। कलेक्टर ने जल जीवन मिशन पर ध्यान देते कार्य करने कहा। उन्होंने चिटफंड कंपनी के निवेशकों की राशि वापस करने लंबित आवेदन को शीघ्र प्रस्तुत करने के लिए तहसीलदार को निर्देशित किया।

उल्लेखनीय है कि डोंगरगांव विकासखंड के 77 ग्रामों में चल रहे विकास कार्यों का मॉनिटरिंग करने जिला स्तरीय अधिकारियों ने दौरा किया। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ अमित कुमार, एसडीएम डोंगरगांव सुनील नायक, जनपद सीईओ नवीन कुमार, मनरेगा के फैज मेनन सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *