मेरा बिलासपुर

विकास खोजो अभियान:अमर अग्रवाल बोले- जनविरोधी छत्तीसगढ़ सरकार की नीतियों से ठगे जा रहे हैं लाखों युवा

महाराणा प्रताप नगर वार्ड क्रमांक 39 में विकास खोजो अभियान

बिलासपुर।विकास खोजो अभियान अंतर्गत दसवें दिन मध्य मंडल के बसंत भाई पटेल नगर जूना बिलासपुर क्षेत्र एवं तोरवा इलाके के महाराणा प्रताप नगर वार्ड क्रमांक 39 में विकास खोजो अभियान का जत्था एवं भाजपा नेता ने अमर अग्रवाल के नेतृत्व में पहुंचा। महाराणा प्रताप नगर में विकास खोजो अभियान दयालबंद सीताराम मंदिर से आरंभ होकर मांडवा बस्ती, जगमल चौक होते हुए तोरवा सिंधु भवन में शिविर स्थल पर संपन्न हुआ।

शिविर में प्रधानमंत्री आवास, मतदाता कार्ड सुधार ,नवीन राशन कार्ड , वार्डों में साफ-सफाई, अधिक बिजली बिल, स्ट्रीट लाइट, सड़कों की मरम्मत आदि से संबंधित अनेकों आवेदन प्राप्त हुए। बसंत भाई पटेल नगर कतियापारा उदल चौक में भ्रमण के दौरान नागरिकों ने पूर्व मंत्री को बताया प्रधान मंत्री आवास योजना में मिले उनके आवास को खाली कराके अवैध अतिक्रमण के नाम पर बिना नोटिस तोड़ा जा रहा है।

तोरवा वार्ड में आयोजित शिविर स्थल में पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने कहां की कांग्रेस की सरकार जनविरोधी है,जानबूझकर अपने राजनीतिक उद्देश्यों की पूर्ति के लिए लोकतांत्रिक मर्यादाओं के विपरीत अड़ंगेबाजी करना सरकार का मूल चरित्र बन गया है।प्रदेश में युवाओं की भर्ती मामले में परीक्षा के संकट का हवाला देने वाली सरकार को यह बताना चाहिए कितने पदों पर व्यापम और पी एस सी से भर्ती परीक्षा चार सालों में हुई है।

बिना किसी कारण शासकीय सेवा में चयनित युवाओं की परिवीक्षा अवधि दो से तीन साल करने वाला छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है, मुट्ठी भर नौकरी में भर्ती होने वाले शासकीय सेवकों को कोरोना कॉल के नाम पर पूर्णकालिक वेतन ना देकर 3 वर्षों तक 30%,20 और 10% की कटौती की जा रही है।

घर में घुसकर छेड़छाड़..फरार आरोपी को पाराघाट से पकड़ा गया..

5 लाख शासकीय सेवकों को केंद्र के समान डीए देने के लिए आंदोलन करना पड़ रहा है। पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने कहा ढाई लाख संविदा कर्मी नियमित होने के लिए सरकार के आगे गिड़गिड़ा रहे हैं, सरकार ने जन घोषणा पत्र में नियमितीकरण का वादा किया था,वादा पूरा करने के समय पल्ला झाड़ रही है,वही दूसरी ओर धड़ल्ले से संविदा आधारित भर्ती बैक डोर से की जा रही है।

भाजपा नेता अमर अग्रवाल ने कहां कि प्रदेश में भर्ती करने वाली संस्था सीजी पीएससी हो या व्यापम की परीक्षा प्रणाली की खामियां जगजाहिर है। चार वर्षों से सब इंस्पेक्टर की भर्ती परीक्षा को लटका कर के रखा गया। उन्होंने कहां 2004 के बाद भर्ती हुए लाखों कर्माचारियों की एनपीएस की जमा निधि की वापसी का विश्लेषण किए बिना ओल्ड पेंशन स्क्रीम लागू करने की घोषणा करके सीएम न्याय पुरुष बन गए और लोगो के जमाधन की वापसी की बात पर केंद्र सरकार पर ₹17640 हजार करोड़ राजस्व जमा बकाया शेष उलाहना देते है, जबकि सामान्य सा आदमी भी जानता है पेंशन कटौती की राशि नियत अवधि के लिए भविष्य की दृष्टि से लाभकारी निवेश में लगा दी जाती है।

अमर अग्रवाल ने कहा सीएमई के अनुसार बेरोजगारी दर शून्य से नीचे होने का दावा करने वाली सरकार यह नही बता पा रही है कि रोजगार दर जीरो है तो भर्ती परीक्षा के लिए लाखों आवेदन कैसे आते है। इंडिया टुडे के सर्वे में आर्थिक हालात की दृष्टि से छत्तीसगढ़ का स्थान पिछड़े राज्यों की श्रेणी में क्यो आया है विज्ञापन बाजी में अव्वल सरकार को अंदाज हो गया है कि छत्तीसगढ़ की जनता ने दुबारा इनके भुलावे में आने वाली नही है, इसलिए वह केवल बयानबाजी करके अपना उल्लू सीधा करने का काम कर रही है। परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं में असंतोष की भावना घर कर गयी है।

अरूण जेटली का निधन मेरी निजी क्षति....अमर अग्रवाल ने बताया...हमने खो दिया राजनीति का चमकता सितारा

भर्ती के चरणों में न्यायालयीन प्रकिया में उलझने से परीक्षाओं के परिणाम रुकने का राज्य में ट्रेंड हो गया है। स्कूलों में पढ़ने वाली भावी पीढ़ी के भविष्य के साथ भी राज्य की सरकार खिलवाड़ कर रही है। केंद्र सरकार के द्वारा करोड़ों का बजट उपलब्ध कराने के बावजूद सर्व शिक्षा अभियान, प्रधानमंत्री पोषण आहार योजना एवं आधारभूत संरचना के विकास में खुली लूट मची हुई है।

भावी पीढ़ी निर्माण के लिए युवाओं की पौध तैयार करने वाले हजारों की संख्या में शिक्षकों की पदोन्नति,एरियर्स वेतन विसंगति, अनुकंपा नियुक्ति एवं विविध मांगों को लेकर आए दिन आंदोलन को मजबूर हो जाते हैं। वास्तव में विभिन्न वर्गों के साथ युवा,महिला, बेरोजगार,
वृद्धजन के हितों के नाम प्रदेश सरकार दिखावे बाजी में लगी है एवम विभिन्न वर्गों के बीच विभाजनकारी मानसिकता से काम कर रही है।

आज आयोजित अभियान के दौरान जिलाध्यक्ष रामदेव कुमावत भाजयुमो प्रभारी दीपक सिंह ठाकुर, मंडल पदाधिकारी मोतीराम गंगवानी, उदय मजूमदार , चीनी बूटी गंगोत्री, निंम्मा जीवनानी, ने बताया कि पिछले 4 वर्षों में नए विकास कार्यों की एक ईंट भी नहीं रखी गई और पुराने कार्यों का रखरखाव नहीं होने से मूलभूत सुविधाओं का वार्ड में अभाव होने से वार्ड वासी हलकान है। अभियान के दौरान जयश्री चौकसे, पूजा इंगोले, शकीला बेगम,रजनी यादव ,सुनीता तिवारी, मीना विश्वकर्मा,वल्लभ राव, परवीन सेन, नवीन उभरानी, अभिषेक प्रभाकर ,विक्रम रजक, , नितिन छाबड़ा, दिनेश देवांगन एवम मध्य मंडल वार्ड क्रमांक 32 में आयोजित अभियान अंतर्गत अरविंद बोलर, बंधु मौर्य, विनोद सोनी, मनीष शुक्ला, सुरेन चौधरी, आनंद तिवारी, कमल कौशिक, प्रकाश दुबे, दिनेश शर्मा, बलराम हरियाणी, सुखदेव रजक, बिंदा कश्यप, राजेश गुप्ता, महेश देवांगन, निक्कू सचदेव, रामेश्वर भाई, रवि मोहोड, छेदी कश्यप, योगेश बोले, आलोक घोरे , बबलू पमनानी, अमरदीप बोलर, दीपक साहू, देवेश सोनी, विनोद कुमार, पूजा इंगोले, राजू खान, आशीष मिश्रा, सुनील विश्वकर्मा, मोहन दुबे, दिनेश सिंह ठाकुर, प्रदीप शुक्ला, अतुल बापते, श्री कान्त सहारे आदि शामिल हुए।कल दिनांक 30 दिसंबर को वार्ड क्रमांक 10 राजेंद्र नगर वार्ड में विकास खोजों अभियान एवं जन समस्या शिविर आयोजित किया जावेगा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS