संविदा बिजली कर्मियों पर लाठीचार्ज सरकार की तानाशाही: अमित जोगी

रायपुर।जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने बीते 44 दिनों से अपनी मांगों को लेकर लोकतांत्रिक तरीके धरना प्रदर्शन करने वाले संविदा विद्युतकर्मचारियों पर पुलिस के द्वारा बेरहमी से लाठीचार्ज किए जाने की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा संविदा विद्युत कर्मियों पर लाठीचार्ज और उनको जेल भेजने की घटना से कांग्रेस सरकार का तानाशाही रवैया उजागर हो गया है। निर्दोष संविदा कर्मचारियों पर लाठी बरसाने की जितना भी निंदा की जाए कम है। सरकार के द्वारा अपने जन घोषणा पत्र में जो वादा किया गया था वह तो पूरा नहीं कर रही है बल्कि उल्टे उनके आंदोलन को बलपूर्वक कुचलने का काम कर रही है उनके साथ अन्याय औ अत्याचार है जिसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है ।

अमित जोगी ने कहा कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता श्री राहुल गांधी ने संसद में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को सहिष्णुता पर लंबी भाषण देते हुए उन्हें सहिष्णुता पाठ पढ़ाया था अच्छा होता यदि राहुल गाँधी सहिष्णुता का थोड़ी पाठ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पढ़ा देते तो शायद आज इन निर्दोष संविदा विद्युतकर्मियों को लाठी नहीं खाना पड़ता और न ही जेल नहीं जाना पड़ता।

अमित जोगी ने कहा छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में दो सूत्रीय मांगों को लेकर तपती धूप में बीते 44 दिनों से प्रदर्शन कर रहे विद्युत संविदा कर्मचारियों के आंदोलन को पुलिस द्वारा बलपूर्वक खत्म किया गया जो कि उनके लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन है पुलिस ने धरनास्‍थल पर प्रदर्शनकारियों पर धरनास्थल पर बेहरहमी से लाठीचार्ज किया लात घुसे मारे । वहीं पुलिस की कार्यवाही में करीब 40 प्रदर्शनकारियाें को हिरासत में लेकर जेल में डाल दिया गया जो कि सरकार की असली तानाशाही चेहरा को उजागर करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *