अप्रैल तक पूरा करें प्रोजेक्ट,प्रगति रोजाना दिखें,SDM और सीएसईबी को निर्देश 

बिलासपुर- बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा बनाए जा रहें अरपा उत्थान एवं तट संवर्धन कार्य का आज कलेक्टर डाॅ.सौरभ कुमार ने निरीक्षण किया। कार्य में तेजी लाने के निर्देश देते हुए कलेक्टर ने अप्रैल 2023 तक पूरा प्रोजेक्ट पूर्ण करने के निर्देश दिए,साथ ही कलेक्टर ने कहा की कार्य की प्रगति रोजाना दिखें इस गति से काम करना है । पर्याप्त मात्रा में मानव बल और मशीन पावर में इजाफा कर पूरे प्रोजेक्ट को अप्रैल 2023 तक पूर्ण करने के निर्देश कलेक्टर सौरभ कुमार ने स्मार्ट सिटी और ठेका कंपनी को दिए।

     इंदिरा सेतु पुल से पचरीघाट तक बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के तहत अरपा को संवारने के लिए अरपा उत्थान एवं तट संवर्धन का कार्य किया जा रहा है। जिसका कलेक्टर सौरभ कुमार ने एमडी कुणाल दुदावत और निगम कमिश्नर श्री वासू जैन के साथ नदी में घूमकर निरीक्षण किया।

कार्य की प्रगति की जानकारी देते हुए एमडी श्री कुणाल दुदावत ने बताया समतलीकरण के बाद सड़क के लिए रिटेनिंग और टो वाॅल के साथ समानांतर रूप से नाला निर्माण भी किया जा रहा है। इस पर कलेक्टर श्री सौरभ कुमार ने कहा समय सीमा के भीतर काम को पूरा करने के लिए टीम और मशीनों की संख्या बढ़ाएं,रोड के काॅम्पेक्शन लिए जारी फ्लाई एश और मुरूम फिलिंग के काम को शीघ्र पूरा कर सड़क का काम शुरू करें।

प्रोजेक्ट के लिए प्रस्तावित पूरे क्षेत्र में एक साथ काम दिखना चाहिए। इसके अलावा प्रस्तावित क्षेत्र में बिजली लाइन और खंभे के शिफ्टिंग के लिए सीएसईबी के एसई श्री जांगड़े को काम शुरू करने के निर्देश दिए। प्रोजेक्ट के प्रस्तावित क्षेत्र में एक जगह भूमि विवाद के निपटारे के लिए हाईकोर्ट के निर्देशानुसार एसडीएम को कार्रवाई करने कहा। ठेका कंपनी गणपति इंफ्रास्ट्रक्चर को मशीनरी संसाधन समेत पर्याप्त संख्या में मानव बल बढ़ाने के भी दिए।

निर्माणाधीन बैराज का भी कलेक्टर ने किया निरीक्षण 

जल संसाधन विभाग द्वारा लगभग 79 करोड़ की लागत से  शिवघाट और पचरीघाट में दो बैराज का निर्माण किया जा रहा है,जिसका आज कलेक्टर सौरभ कुमार ने निरीक्षण कर दोनों बैराज को मार्च 2023 तक पूरा करने के निर्देश जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को दिए। इस दौरान कलेक्टर सौरभ कुमार ने अधिकारियों से बैराज की क्षमता समेत अन्य बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *