CG-आत्मानंद स्कूल के लिए चलेगी बस,हॉस्टल भी खुलेगा

रायपुर,। सीएम-मंत्री या अफसरों के दौरे में फरियादी या मांग करने वाले ही ज्यादातर पहुंचते हैं, लेकिन मंगलवार को एक महिला भेंट मुलाकात कार्यक्रम में सीएम भूपेश बघेल के पास कोई मांग या शिकायत नहीं, बल्कि सुझाव लेकर पहुंची। सुझाव भी ऐसा था कि सीएम ने तत्काल स्वीकार किया और अमल करने के निर्देश दिए। दरअसल बात चित्रकोट विधानसभा के बड़े किलेपाल गांव की है। सीएम भूपेश बधेल भेंट मुलाकात कार्यक्रम में लोगों से शासन की योजनाओं की जानकारी ले रहे थे। इस बीच चंद्रिका ठाकुर नाम की महिला ने मुख्यमंत्री को ये बताया कि उसके दोनों बच्चे स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल में पढ़ते हैं। महिला ने मुख्यमंत्री से कहा कि स्कूल काफी दूर है और बच्चों के पिता के काम की वजह से बाहर रहने पर स्कूल छोड़ने की व्यवस्था ना होने से बच्चे स्कूल नहीं जा पाते हैं।

चंद्रिका ने मुख्यमंत्री को ये सुझाव दिया कि स्वामी आत्मानंद स्कूलों के साथ ही वहां पर स्कूली छात्रों के लिए हॉस्टल भी बनने चाहिए ताकि दूर दराज से आने वाले बच्चों को रहने के लिए जगह मिल जाए। चंद्रिका ने ये भी कहा कि यदि हॉस्टल नहीं बन सकता तो आत्मानंद स्कूल से स्कूल बस की शुरुआत करा दीजिए ताकि बच्चों को स्कूल आने जाने में आसानी हो सके। महिला की बातों को सुनकर मुख्यमंत्री ने उसकी तारीफ की और एक बेहतर सुझाव देने के लिए उसे धन्यवाद भी दिया। मुख्यमंत्री ने तुरंत ही इस सलाह पर अमल करने की बात करते हुए स्कूलों के साथ हॉस्टल निर्माण करने का वायदा किया और अगले बजट में इस प्रस्ताव को शामिल कराने की बात कही। मुख्यमंत्री के इस वायदे पर चंद्रिका ठाकुर ने बच्चों के भविष्य को नई ऊंचाइयों तक ले जाने में मदद करने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *