सरकार के प्रवक्ता कहते है 15 साल में BJP ने सिस्टम खराब किया,CM कहते है बारिश में कोई सिस्टम काम नही करता,ऐसी लबरा सरकार से भगवान बचाये

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने बारिश के कारण सिस्टम के बंद होने और लोगों को अपने घरों में रुकने की सलाह देने संबंधी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान पर तीखा कटाक्ष कर कहा है कि मुख्यमंत्री का यह कथन अपनी सरकार की शर्मनाक विफलताओं की स्वीकारोक्ति है। श्री कौशिक ने कहा कि कोरोना काल में केंद्र सरकार के लॉकडाउन के फैसले को लेकर प्रलाप करने वाले कांग्रेस के लोग अब मुख्यमंत्री के इस बयान पर मुँह में दही जमाकर बैठे हैं!प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री कौशिक ने कहा कि यह सरकार पूरी तरह से अंतर्विरोधों की शिकार हो चली है। अभी दो दिन पहले ही प्रदेश सरकार के ‘लबरा’ प्रवक्ता और मंत्री रवीन्द्र चौबे ने प्रदेश में 15 साल के भाजपा शासनकाल को लेकर किए गए प्रलाप में छत्तीसगढ़ की समस्याओं के लिए भाजपा को कोसा था।

अब मुख्यमंत्री सिस्टम फेल होने की बात कहकर लोगों से घरों में ही रुके रहने को कह रहे हैं। श्री कौशिक ने कहा कि बारिश में भाजपा के तन-मन धुलने की फ़िक्र करना छोड़ मुख्यमंत्री बघेल इस बात की चिंता करें कि इस मॉनसून की पहली तेज़ बारिश के पानी के साथ राजधानी के अधिकांश मुहल्लों-घरों व दुकानों और यहाँ तक कि मॉल्स में कांग्रेस की ओछी मानसिकता से प्रेरित उनकी सरकार की कार्यप्रणाली की गंदगी भी घुस आई है और अब वे इसकी सफाई की अपनी ज़िम्मेदारी से मुँह चुराने की एक और शर्मनाक हरक़त से बाज आएँ। श्री कौशिक ने कहा कि राजधानी में जलभराव की स्थिति के लिए नगर निगम की ज़िम्मेदारी बताकर मुख्यमंत्री बघेल ने यह स्वीकार कर लिया है कि तीन साल में न उनकी सरकार ने कोई ठोस काम किया और न ही 15 सालों से नगर निगम में काबिज कांग्रेस ने कोई काम किया है।

प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री कौशिक ने कहा कि यह बात समझ से परे है कि पिछले दो दिनों से हुई बारिश से राजधानी के मुहल्लों-घरों, दुकानों-मॉल्स में घुसे पानी के लिए तीन साल से सरकार में बैठे मंत्री चौबे 15 साल के भाजपा शासनकाल को लेकर प्रलाप करके क्या साबित करना चाह रहे हैं? अब मुख्यमंत्री बघेल कह रहे हैं कि बारिश में कोई सिस्टम काम ही नहीं करता। सरकार के ‘लबरा’ प्रवक्ता चौबे और मुख्यमंत्री बघेल के परस्पर विरोधाभासी बयानों पर तंज कसते हुए श्री कौशिक ने कहा कि पहले सरकार के प्रवक्ता और ख़ुद सरकार यह तय कर लें कि सिस्टम के इस फेल्योर के लिए भाजपा को ज़िम्मेदार ठहराकर प्रलाप करना है या फिर बारिश की आड़ लेकर अपनी और राजधानी की निगम सरकार के निकम्मेपन पर शर्म महसूस करके मुँह चुराना है? श्री कौशिक ने कहा कि लबरा प्रवक्ता व मंत्री चौबे और मुख्यमंत्री बघेल के विरोधाभासी बयान यह साबित करते हैं कि यह केवल और केवल झूठ बोलकर लोगों को ग़ुमराह करने वाली प्रदेश सरकार है।

कांग्रेस के हर नेता का बयान हर विषय में अलग-अलग आता है, जिसको जो बोलना होता है, बिना सोचे बोल जाता है। कांग्रेस के एक विधायक ने तो यह तक कह दिया कि यह बारिश तो भगवान करा रहा है तो हम क्या कर सकते हैं?प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री कौशिक ने कहा कि बारिश निश्चित रूप से भगवान कराता है, पर बारिश से कोई समस्या पैदा न हो, लोगों को तक़लीफ़ न हो, यह देखना तो सरकार का काम होता है। कांग्रेस के नेता इस बात का ज़वाब दें कि नगर निगम में 15 और प्रदेश की सरकार में तीन सालों से काबिज कांग्रेस ने अब तक क्या किया? निगम की कांग्रेस सरकार राजधानी में बिखरे पड़े और नालियों में जमा कचरा तक साफ नहीं करा पा रही है। ‘यह काम हो ही नहीं सकता’ कहने के बजाय कांग्रेस नेता अब यह स्वीकार करें कि उन्हें सरकार चलाना और काम करना/कराना नहीं आता और वे काम नहीं करना चाहते। श्री कौशिक ने कहा कि प्रदेश सरकार और निगम के कांग्रेस महापौर केवल चौक-चौराहों को बनाकर मुख्यमंत्री की फोटो लगाने के अलावा और कोई काम नहीं कर रहे हैं। स्मार्ट सिटी मद के पैसे से एक ही चौक को बार-बार बनाकर उद्घाटन करते कांग्रेस के नेता जनता की सुविधाओं की ज़रा भी फ़िक्र नहीं कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *