शिक्षकों के आधे अधूरे संविलियन से पैदा हुई विसंगतियां , शासकीय करण के बाद भी परेशानियां कायम, समस्याओं को सरकार के सामने दमदारी से रखने संयुक्त शिक्षक संघ की मुहिम तेज

शिक्षको के आधे अधूरे संविलियन ने विसंगतियो को जन्म दिया जिसका नतीजा यह रहा कि शिक्षको का शासकियकरण होने के बाद भी राज्य के अन्य शासकीय कर्मचारियों के जैसे लाभ शिक्षको को नही मिल पा रहे है । शिक्षको की समस्याओं को सरकार के समक्ष दमदारी से रखने के लिए शिक्षक नेता केदार जैन के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ प्रदेश के सहायक शिक्षक एलबी के वेतन विसंगति को दूर कर एलबी संवर्ग के शिक्षकों की शिक्षाकर्मी/गुरुजी/संविदा शिक्षक के पद पर प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवा की गणना कर क्रमोन्नत वेतनमान प्रदान करने की अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर राज्यव्यापी अभियान के दूसरे चरण में संभागीय कार्यशाला व ज्ञापन कार्यक्रम के तहत 27 अक्टूबर को बिलासपुर संभाग स्तरीय कार्यशाला सराय भवन इमली पारा बिलासपुर में प्रांताध्यक्ष केदार जैन की विशेष उपस्थिति में संपन्न हुआ।

जानकारी देते हुए कार्यकारी प्रांत अध्यक्ष ओम प्रकाश बघेल ने बताया कि कार्यशाला में उपस्थित संघ के समस्त पदाधिकारियों एवं शिक्षकों ने सरकार से शिक्षकों के लिए किए गए वायदा को शीघ्र ही पूरा करने का मांग कर अपनी एक सूत्रीय मांग को पूरा करने के लिए अभियान को और तेज करने का प्रस्ताव पारित किया गया। कार्यशाला के बाद सभी शिक्षक संयुक्त संचालक शिक्षा संभाग बिलासपुर के कार्यालय पहुंचे जहाँ संयुक्त संचालक बिलासपुर आर एस चौहान को मुख्यमंत्री, शिक्षामंत्री, मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा विभाग के नाम एक सूत्रीय मांग का ज्ञापन सौंपा गया।

बिलासपुर जिला अध्यक्ष अरुण जायसवाल ने बताया कि प्रांताध्यक्ष केदार जैन ने कार्यशाला में कहा कि हमने अपने अनुभव से सीख है। हक के लिए संघर्ष करना ही पड़ेगा। ठोस रणनीति बनानी होगी सबको साथ आना होगा मोर्चा का आंदोलन शून्य में लिया गया बहुत बड़ा आंदोलन स्वर्णिम संविलयन दे गया है। इस संविलियन में हुई विसंगतियों को एक सूत्र में दूर करने के लिए हम पहले भी प्रतिबध थे आज भी है हम सहायक शिक्षक एलबी के वेतन विसंगति को दूर करने एलबी संवर्ग के शिक्षकों की शिक्षाकर्मी/गुरुजी/संविदा शिक्षक के पद पर प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवा की गणना कर क्रमोन्नत वेतनमान प्रदान करने के अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर राज्यव्यापी अभियान शुरू किया है।

उप प्रांताध्यक्ष गिरजा शंकर शुक्ला ने बताया कि कार्यशाला में शिक्षकों के अधिकार के लिए चलाए जा रहे इस अभियान में सभी शिक्षकों से जुड़ने का अपील की गई है । साथ ही समान विचारधारा के अन्य शिक्षक संघों से तालमेल कर भविष्य में बड़े कार्यक्रम का आगाज किया जा सकता है। प्रांतीय सचिव रूपानंद पटेल ने बताया कि रायपुर संभाग के कार्यक्रम की तरह बिलासपुर संभाग का कार्यक्रम शानदार रहा है कार्यशाला में भविष्य के लिए ठोस योजना पर चर्चा हुई है। रायपुर की तरह बिलासपुर संभाग के कार्यक्रम में कुछ शिक्षक नेताओ शिरकत की थी मंच से उन्हें आभार किया गया ।

बिलासपुर संभाग अध्यक्ष बसंत जायसवाल ने बताया कि छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ बिलासपुर संभाग स्तरीय शिक्षकों की अन्य समस्याओं को लेकर संयुक्त संचालक को अलग से ज्ञापन सौपा है जिसमे शिक्षको को होने वाली विभिन्न समस्याएं सेवा पुस्तिका का संधारण एवं सत्यापन, एरियर भुगतान, परीक्षा अनुमति, अवकाश स्वीकृति आदि के संबंध में ज्ञापन सौपते हुए, संपूर्ण निराकरण हेतु विकासखंड स्तर पर प्रभावी शिविर के आयोजन का मांग किया गया। जिस पर संयुक्त संचालक आर एस चौहान ने कहा कि शिक्षकों के समस्याओं के लिए हम शीघ्र ही शिविर का आयोजन करेंगे। कार्यालय के द्वारा शिक्षक समस्या निवारण के लिए पोर्टल बनाया गया है। जिसमें शिक्षक अपनी समस्याओं का आवेदन सीधे कर सकते है जिसका समय सीमा में निराकरण किया जाएगा। आपके द्वारा जिन समस्याओं को अवगत कराया गया है शीघ्र ही इसके निराकरण की दिशा में ठोस कार्यवाही की जाएगी।

बिलासपुर में इमलीपारा के भवन में हुए कार्यक्रम का संचालन संघ के उप प्रांताध्यक्ष गिरजा शंकर शुक्ला ने एवं आभार प्रदर्शन बिलासपुर जिला अध्यक्ष अरुण जायसवाल ने किया संभागीय कार्यशाला एवं ज्ञापन कार्यक्रम में संघ के प्रांताध्यक्ष केदार जैन, कार्यकारी प्रांत अध्यक्ष ओम प्रकाश बघेल, उप प्रांताध्यक्ष गिरजा शंकर शुक्ला, प्रांतीय सचिव रूपानंद पटेल, प्रांतीय महामंत्री श्रीमती टेरेसा केरकेट्टा, मनोज मिस्त्री, प्रांतीय संगठन मंत्री श्यामाचरण डनसेना, जिलाध्यक्ष अरुण जयसवाल बिलासपुर, राज कमल पटेल रायगढ़, विकास सिंह जांजगीर चाम्पा, नित्यानंद यादव कोरबा, नारायण देवांगन सक्ति, मोहन लहरी मुंगेली, मोहम्मद तबरेज खान गौरेला पेंड्रा मरवाही, पवन सिंह रायपुर, कौशल नेताम कोंडागांव, बिलासपुर संभाग अध्यक्ष बसंत जयसवाल, जय कृष्ण राठिया, विनय झा, बलराम जोगी, सुरेंद्र डहरिया, संतोष साहू, आदित्य जी, राजेन्द्र ठाकुर, शरद राठौर, नारायणी कश्यप, बलजीत सिंह कांत, लक्ष्मीकांत पाठक, शिव कौशिक, यादव सिंह पवार, नरेश प्रसाद यादव, मोहम्मद इस्माइल, सरिता ठाकुर, रुकमणी सोनी, सरिता साहू, भरत यादव, रीता श्रीवास्तव, दीनबंधु जयसवाल, कार्तिक चौहान, मुनेंद्र शर्मा, शैलेंद्र मिश्रा, महिपाल दास महंत, अजय वर्गीस, दीपक भगत, चेतन पटेल, कौशल पटेल, रामप्यारे साहू, सुरेंद्र पटनायक, शैलेश बेहरा, पंकज पटनायक, रामचरण साहू, रवि पटेल, सौरभ पटेल, श्यामजी भारती सहित बड़ी संख्या में संघ पदाधिकारी एवं शिक्षक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.