TOP NEWS

CG News: उत्तम Result के लिए कवायद,कलेक्टर ने ली शिक्षा विभाग के अधिकारियों की बैठक

कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला द्वारा लगातार शिक्षा विभाग के कार्यों की मॉनिटरिंग की जा रही

उत्तर बस्तर कांकेर-हाई स्कूल एवं हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट (बोर्ड) परीक्षा में उत्कृष्ट परिणाम सुनिश्चित करने के लिए  कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला द्वारा लगातार शिक्षा विभाग के कार्यों की मॉनिटरिंग की जा रही है। उनके द्वारा आज जिला शिक्षा अधिकारी, राजीव गांधी शिक्षा मिशन के परियोजना समन्वयक एवं जिले के सभी बीईओ, बीआरसी की बैठक लेकर हमर लक्ष्य अभियान में प्रगति की समीक्षा की गई तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। बोर्ड परीक्षा के अनुरूप तैयारी करने के लिए कम अच्छे बच्चों हेतु रेमेडियल क्लास और मेरिट में आने योग्य बच्चों के लिए अतिरिक्त कक्ष लगाने हेतु शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया। विद्यार्थियों को जनवरी एवं फरवरी माह में अधिक से अधिक रिवीजन कराने के निर्देश भी दिये गये।

कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने छैमाही परीक्षा में सम्मिलित होने वाले विद्यार्थियों के ग्रेडिंग की समीक्षा किया तथा डी ग्रेड आने वाले स्कूलों एविं विद्यार्थियों पर विशेष ध्यान देने के निर्देश भी दिये। अनुपस्थित विद्यार्थियों की स्कूलों में उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए विशेष प्रयास करने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे बच्चों  के घरों में जाकर अनुपस्थिति के कारणों का पता लगाया जाये और विद्यार्थी को स्कूल जाने के लिए प्रेरित किया जाये एवं उनके पालकों को इसके लिए अनुरोध किया जावे।

कलेक्टर ने ऐसे बच्चों को स्कूल से जोड़ने के लिए ‘अनुरोध अभियान’ चलाने तथा बुधवार से ही इसकी शुरूआत करने के निर्देश दिये। अनुपस्थित बच्चों को स्कूलों में उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए राजीव युवा मितान क्लब के सदस्यों एवं बिहान के महिला स्व-सहायता समूह का भी सहयोग लेने के लिए भी शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया।

ओपन स्कूल द्वारा हाईस्कूल-हायर सेकण्डरी परीक्षा,शिक्षा मंत्री ने जारी किया परीक्षा परिणाम,यहाँ देखे रिज़ल्ट

कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने कक्षा 12वीं में गणित विषय लेकर पढ़ाई कर रहे सभी विद्यार्थियों से जेईई का फार्म भरवाने के निर्देश भी दिये हैं तथा फार्म भरने के पश्चात् उन्हें उचित मार्गदर्शन देने के लिए भी कहा है। जिला शिक्षा अधिकारी भुवन जैन ने बताया कि जेईई का फार्म भरने की अंतिम तिथि 12 जनवरी निर्धारित की गई है तथा जिले में गणित विषय के सभी बच्चों को जेईई का फार्म भरवाया जा रहा है। कलेक्टर द्वारा गुणवत्तापूर्ण शिक्षा एवं बेहतर रिजल्ट के लिए स्कूलवार व विद्यार्थीवार कार्ययोजना बनाने तथा मॉडल प्रश्न बैंक तैयार करने के निर्देश भी जिला शिक्षा अधिकारी को दिये गये हैं।

अर्धवार्षिक परीक्षा का रिजल्ट देखकर जिस विषय में ज्यादा विद्यार्थी अनुत्तीर्ण हुए हैं, उस विषय की पढ़ाई एवं रिवीजन पर विशेष ध्यान देने के लिए निर्देशित किया गया। स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट विद्यालयों में शिक्षा गुणवत्ता पर भी चर्चा की गई। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुमीत अग्रवाल, जिला शिक्षा अधिकारी भुवन जैन, राजीव गांधी शिक्षा मिशन के परियोजना समन्वय आर.पी. मिरे सहित सभी विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, सहायक विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी एवं बीआरसी उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS