उत्तरपुस्तिकाओं का लापरवाहीपूर्ण मूल्यांकन, तीन शिक्षकों पर शास्ति अधिरोपित

धमतरी/ छत्तीसगढ़ शिक्षा मण्डल रायपुर द्वारा आयोजित हाई स्कूल एवं हायर सेकण्डरी स्कूल परीक्षा वर्ष 2020 की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन राज्य सहित जिले के शिक्षकों के माध्यम से कराया गया था। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि इनमें से जिन मूल्यांकनकर्ताओं ने सौंपे गए कार्य के प्रति गम्भीर लापरवाही बरती है, उन्हें गुण-दोष के आधार पर परीक्षा समिति द्वारा लिए गए निर्णयानुसार शास्ति अधिरोपित की गई है। उन्होंने बताया कि श्रेणी-एक के तहत जिनके मूल्यांकन में छात्रों के 20 से 40 अंकों की वृद्धि हुई है, इस श्रेणी के अंतर्गत आने वाले मूल्यांकनकर्ताओं को तीन वर्षों के लिए मूल्यांकन कार्य से वंचित किया गया है।

बताया गया कि हाई स्कूल परीक्षा की उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन में हिन्दी विशिष्ट हेतु कुरूद विकासखण्ड के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सेलदीप में पदस्थ व्याख्याता प्रेमानंद मण्डावी तथा गणित विषय के लिए धमतरी विकासखण्ड के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में पदस्थ व्याख्याता श्री दिलीप कुमार यादव को तीन वर्षों के लिए मूल्यांकन कार्य से वंचित किया गया है। इसी तरह हायर सेकण्डरी परीक्षा की उत्तर पुस्तिका के रसायन शास्त्र विषय के मूल्यांकन में धमतरी विकासखण्ड के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय संबलपुर में पदस्थ व्याख्याता श्रीमती नम्रता जाधव पर भी उपरोक्तानुसार शास्ति अधिरोपित की गई है। उन्हें भी तीन वर्ष के लिए मूल्यांकन कार्य से वंचित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *