TS सिंहदेव और पुनिया के ट्वीट पर BJP अध्यक्ष साय का पलटवार,टीकाकरण पर सवाल उठाने का कोई अधिकार नहीं

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव एवं कांग्रेस प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा कि प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को टीकाकरण को लेकर सवाल उठाने का कोई अधिकार नहीं बनता। छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव जिन्होंने वैक्सिन पर सवाल खड़ा कर देश के महान वैज्ञानिकों के प्रति अविश्वास जताया और टीएस सिंहदेव सहित कांग्रेस के नेताओं ने देश की जनता के सामने टीकाकरण को लेकर भ्रम का वातावरण निर्मित करने का काम किया आज किस मुंह से कोरोना वैक्सीन के निर्यात पर सवाल खड़ा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में जिस प्रकार से स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने लोगों को भ्रमित किया आज कोरोना के बढ़ते संक्रमण के लिए वह भी एक बड़ा कारण हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष साय ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से पूछा हैं कि क्यों लगातार देश के पराक्रम और देश की बढ़ती क्षमता पर सवाल उठा रहे हैं? कोरोना टीकाकरण को लेकर यदि छत्तीसगढ़ की सरकार और स्वास्थ्य मंत्री जी इतने ही गंभीर हैं तो छत्तीसगढ़ की जनता के हित में प्रतिदिन अधिक से अधिक संख्या में टारगेट सेट कर के टीकाकरण करवाएं। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से पूछा हैं कि प्रतिदिन छत्तीसगढ़ में कितना टीकाकरण किया जा रहा हैं? प्रदेश सरकार ने कोई लक्ष्य निर्धारित किया भी हैं कि नहीं? उन्होंने कहा कि टीएस सिंहदेव जी को इस विषय पर राजनीति छोड़ प्रदेश की जनता के हित लिए कार्य करना चाहिए।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि यह बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण हैं कि कांग्रेस के नेता टीकाकरण को लेकर प्रारम्भ से ही राजनीतिक रोटी सेकने का प्रयास कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ के नेता कभी वैक्सिन को लेकर सवाल उठाते हैं कभी केंद्र से आपूर्ति नहीं होने का झूठा बहाना बनाते हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार लगातार जितना प्रदेश चाहे वैक्सिन भेज रही हैं परंतु इस आपदा में भी टीकाकरण पर सवाल उठाने वाले छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री और प्रदेश सरकार टीकाकरण को लेकर गंभीर नहीं हैं और आज तक लक्ष्य तय किये बिना केंद्र को कोसने का काम करने वाले प्रदेश की जनता के जान से खिलवाड़ कर रहे हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया के ट्वीट के उत्तर पर याद दिलाते हुए कहा कि वे छत्तीसगढ़ के प्रभारी हैं और उन्हें उत्तरप्रदेश में नहीं छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को सलाह देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पीएल पुनिया जी जरा मुख्यमंत्री बघेल और स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव से पूछे कि छत्तीसगढ़ में टीकाकरण की गति धीमी क्यों हैं? छत्तीसगढ़ में टीकाकरण को लेकर प्रतिदिन का लक्ष्य क्या हैं? क्यों प्रदेश सरकार की लापरवाही से छत्तीसगढ़ में लगातार कोरोना विस्पोटक स्थिति में पहुंच गया हैं? शराब पर लगाए गए सेस 600 करोड़ रुपए का उपयोग छत्तीसगढ़ सरकार कब करेगी? उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता चाहे छत्तीसगढ़ के प्रभारी हो, मुख्यमंत्री हो या स्वास्थ्य मंत्री लगातार कोरोना महामारी में भी केंद्र सरकार और भाजपा शासित राज्यों पर झूठे आरोप मढ़ने में मशगूल हैं और छत्तीसगढ़ की जनता लगातार कोरोना से अकेले संघर्ष करने मजबूर हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को नसीहत देते हुए कहा कि नेकी का पाठ पढ़ाने से पहले उन्हें स्वयं ईमानदारी से प्रदेश की सरकार को शराबबंदी के वादे एवं अपराधों पर लगाम लगाने और छत्तीसगढ़ को कर्ज के दलदल से बचाने के उपाय पर सुझाव देकर जनहित में अपने कर्तव्यों का निर्वहन करना चाहिए और वैक्सिन को लेकर भ्रम फैलाने का जो कृत्य उन्होंने किया था उसके लिए जनता से माफी मांगते हुए तत्काल छत्तीसगढ़ में प्रतिदिन वैक्सिनेशन का लक्ष्य तय कर युद्ध स्तर पर छत्तीसगढ़ की जनता को वैक्सिन लगाने का प्रयास करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *