CG News: नकली नोट खपाने के मामले में एक गिरफ्तार

Shri Mi

CG News: अंबिकापुर पुलिस ने नकली नोट खपाने के मामले में एक को गिरफ्तार किया है। आरोपी के कब्जे से पांच-पांच सौ के कुल 58 नग जाली नोट बरामद किये गये है। घटना कोतवाली थाना क्षेत्र की है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

जानकारी के मुताबिक, 14 मई कों प्रधान डाकघर में ग्राहक कपील गिरी जिसका खाता डाकघर में संचालित है। वह अपने खाता मे नगद रकम जमा करने डाकघर आया था और जमा पर्ची भर के नगद 1 लाख रुपये खाता में जमा करने कैशियर को दिया। नगद रकम कों कैशियर द्वारा गिनने पर 500-500 रुपये के कुल 58 नग नोट नकली होना पाया गया।

जिसकी सूचना नायब पोस्ट मास्टर को दी गई। काउंटिंग मशीन द्वारा भी 58 नग जाली नोट कों अलग कर दिया गया। खाताधारक कपील गिरी तुरियाबीरा लुन्ड्रा निवासी द्वारा जानबूझकर जालसाजी करते हुए जाली नोट कों असली नोट के साथ मिलाकर खपाने की कोशिश कर रहा था।

नायब पोस्ट मास्टर की रिपोर्ट पर थाना कोतवाली में अपराध क्रमांक 327/24 धारा 489-(ख) (ग) भा.द.वि. का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

आरोपी कपील गिरी से पूछताछ करने पर उसने बताया कि कुछ दिनों पूर्व आरोपी द्वारा एक पुराना हनुमान छाप सिक्का कों झारखण्ड के एक व्यक्ति कों बेचने पर 500-500 के कुल 58 नग जाली नोट दिया था।

आरोपी कुछ दिनों तक नोट को घर में रखा था, जिसके बाद असली रुपये के साथ 58 नग जाली नोट को मिलाकर जानबूझकर पोस्ट ऑफिस अम्बिकापुर में 1 लाख रुपये जमा करने की पर्ची भरकर अपने खाता में जमा कर खपाने का प्रयास कर रहा था। पुलिस टीम द्वारा आरोपी के कब्जे से 500-500 रुपये के 58 नग नकली नोट 29000 मूल्य का जाली नोट जब्त किया गया, साथ ही आरोपी के कब्जे से घटना में प्रयुक्त दोपहिया वाहन, 102000 रुपये नगद, 1 नग मोबाइल, 1 नग पासबुक, 1 नग जमा पर्ची जप्त कर आरोपी के विरुद्ध अपराध सबूत पाये जाने से आरोपी कों गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया।

सम्पूर्ण कार्यवाही मे थाना प्रभारी अम्बिकापुर निरीक्षक मनीष सिंह परिहार, सहायक उप निरीक्षक अजीत मिश्रा, अभिषेक दुबे, विवेक पाण्डेय, प्रधान आरक्षक सुधीर सिंह, भोजराज पासवान, संजीव त्रिपाठी, आरक्षक विकाश सिंह, संजीव चौबे, सत्येंद्र दुबे, मनीष सिंह, राहुल सिंह, डायल 112 से आरक्षक अनिल राजवाड़े चालक ललित सिंह शामिल रहे।

By Shri Mi
Follow:
पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
close