मेरा बिलासपुर

CG Vidhansabha-DMF गड़बड़ी का मामला विधानसभा में उठा,स्पीकर ने दिए जाँच के निर्देश

CG Vidhansabha: DMF की राशि से लाइवलीहुड कॉलेज को 18 करोड़ रुपए के भुगतान का मामला मंगलवार को विधानसभा(Vidhansabha) में उठा। इस दौरान विपक्ष के विधायकों ने सदन की कमेटी से जांच कराने की मांग रखी। विधानसभा स्पीकर डॉ. चरणदास महंत(Charandas Mahant) ने आसंदी से परीक्षण कराने का निर्देश दिया।

भाजपा विधायक सौरभ सिंह (Saurabh Singh) ने लाइवलीहुड कॉलेज जांजगीर और रोजगार कार्यालय को तीन साल में भुगतान के मुद्दे पर जानकारी मांगी। मंत्री ने बताया कि लाइवलीहुड कॉलेज में 18.23 करोड़ का भुगतान हुआ है। इसके जरिए 17874 लोगों को प्रशिक्षण दिया गया है। सौरभ सिंह (Saurabh Singh)ने आरोप लगाया कि 300 लोगों को प्रशिक्षण(Training) दिया गया है।उन्हीं के नाम सभी जगह पर हैं।

मधुमक्खी प्रशिक्षण के नाम पर 52 लाख रुपए के भुगतान पर भाजपा(BJP) के सदस्यों ने सवाल किया। नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल(Narayan Chandel) ने कहा कि पूरे छग में डीएमएफ(DMF) का सुनियोजित ढंग से दुरुपयोग हो रहा है। आपके हमारे जिले का विषय है।

पिछले जांजगीर कलेक्टर ने स्थानांतरण से पहले 30 करोड़ रुपए का भुगतान हुआ था। उन्होंने पूछा कि क्या मधुमक्खी प्रशिक्षण (Training)के मामले में शिकायत हुई है। इस पर मंत्री ने बताया कि दो शिकायतें मिली थीं, जिसमें रिकवरी की तैयारी है।

विधायक बृजमोहन अग्रवाल(Brijmohan Agrawal) और अजय चंद्राकर(Ajay Chandrakar) ने डीएमएफ(DMF) में गड़बड़ी और बंटरबांट का आरोप लगाया तो स्पीकर ने कहा कि वे मंत्री को निर्देश दे रहे हैं कि पिछले पांच साल और इन तीन सालों की जांच कराएंगे।

नारायणपुर- नक्सल पीड़ित 577 परिवारों को दिया गया पुनर्वास योजना का लाभ
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS