मेरा बिलासपुरChhattisgarh Assembly ElectionTOP NEWS

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा…अलग से होगी इन पत्रों की गिनती ..बाबा साहब कंगाले ने कहा..अब तक 41 हजार 877 से अधिक डाकमत

बिलासपुर—जिला निर्वाचन के हवाले छत्तीसगढ़ मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि लोकसभा आम निर्वाचन के बाद 4 जून 2024 को मतगणना का कार्य होगा। मतगणना के दौरान ईवीएम में दर्ज वोटों के साथ ही डाक मतपत्रों की गणना की जाएगी। डाक मतपत्रों की गणना 11 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों के संबंधित रिटर्निंग अधिकारी के मुख्यालय जिलों में होगी। सभी संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में अन्य संबंधित जिलों से डाक मतपत्रों का परिवहन रिटर्निंग अधिकारी के मुख्यालय जिलों में पूर्ण कर लिया गया है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

छत्तीसगढ़ मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबासाहेब कंगाले ने बताया कि प्रदेश में 25 मई की स्थिति में कुल 41 हजार 877 डाक मतपत्र प्राप्त हो चुके हैं। इनमें निर्वाचन ड्यूटी में तैनात कर्मचारियों-अधिकारियों के सुविधा केन्द्रों से अंतिम रूप से प्राप्त कुल 26 हजार 936 डाक मतपत्र हैं। होम वोटिंग के तहत  85 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के मतदाताओं से प्राप्त कुल 2 हजार 761 डाकमत्र मिले हैं। दिव्यांगजनों के कुल 1 हजार 453 डाक मतपत्र हासिल हुए है। इसके अलावा अनिवार्य सेवा श्रेणी के 779 डाक मतपत्र भी शामिल हैं।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी के अनुसार सेवा मतदाताओं को जारी किए गए ईटीपीबी डाक के माध्यम से प्रत्येक दिवस प्राप्त हो रहे हैं । 25 मई की स्थिति में कुल 9 हजार 948 ईटीपीबी प्राप्त हो चुके हैं। डाक विभाग के माध्यम से ईटीपीबी की प्राप्ति मतगणना दिवस 4 जून को मतगणना प्रारम्भ होने के पूर्व तक की जाएगी।

मतगणना स्थल में डाक विभाग के प्रतिनिधि सुबह 8 बजे के पहले तक प्राप्त सभी ईटीपीबी डिलीवर कर सकेंगे। मतगणना स्थल में प्रवेश के लिए डाक विभाग के प्रतिनिधि को आईडी कार्ड, स जारी किया जाएगा।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कंगाले ने बताया कि डाक मतपत्रों की गणना 11 रिटर्निंग अधिकारियों के मुख्यालय जिलों में 4 जून को प्रातः 8 बजे से प्रारम्भ हो जाएगी। आवश्यक व्यवस्था एवं तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। डाक मतपत्रों को जिला मुख्यालयों में ट्रेज़री स्थित स्ट्रांग-रूम में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था के साथ रखा गया है। मतगणना के दिन मतपेटियों का परिवहन सुबह 6 बजे निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों, प्रतिनिधियों की उपस्थिति में सम्पूर्ण सुरक्षा के साथ काउंटिंग सेण्टर में किया जाएगा।

 11 जिलों में डाक मतपत्रों की मतगणना 8 बजे प्रारम्भ होने के आधे घंटे बाद यानी साढ़े 8 बजे से ईवीएम के मतों की गणना प्रारम्भ होगी। 11 मुख्यालय जिलों को छोड़कर शेष 22 जिलों में 8 बजे से ही ईवीएम में दर्ज मतों की गणना प्रारम्भ कर दी जाएगी।

11 संसदीय क्षेत्रों के रिटर्निंग अधिकारियों के मुख्यालय जिलों में डाक मतपत्रों की गणना के लिए पृथक से काउंटिंग हॉल तैयार किए गए हैं। एक टेबल में अधिकतम 500 डाक मतपत्रों की गणना की जाएगी। काउंटिंग के लिए प्रत्येक टेबल पर एक-एक अतिरिक्त सहायक रिटर्निंग अधिकारी की उपस्थिति रहेगी। डाक मतपत्रों की गणना के समय प्रत्येक टेबल पर एक एएआरओ के साथ एक मतगणना पर्यवेक्षक, दो मतगणना सहायकों और एक माइक्रो आब्जर्वर भी मौजूद होंगे।

कंगाले ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार प्राप्त डाक मतपत्रों की जानकारी प्रत्येक दिवस सभी निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों को जिला स्तर पर प्रदान की जा रही है। लोकसभा आम निर्वाचन में प्रथम चरण के मतदान अंतर्गत बस्तर लोकसभा क्षेत्र में विभिन्न श्रेणी के मतदाताओं से कुल 3 हजार 264 डाक मतपत्र प्राप्त हुए हैं। द्वितीय चरण के मतदान क्षेत्र राजनांदगांव, महासमुंद और कांकेर लोकसभा से क्रमिक रूप से 1 हजार 568, 4 हजार 242 और 6 हजार 326 डाक मतपत्र प्राप्त हुए हैं।

प्रदेश में तृतीय चरण के समय मतदान क्षेत्र  सरगुजा लोकसभा क्षेत्र से 2 हजार 440 डाक मतपत्र, रायगढ़ से 3 हजार 585, जांजगीर-चांपा से 5 हजार 682, कोरबा से 2 हजार 789, बिलासपुर से 3 हजार 607, दुर्ग से 3 हजार 525 और रायपुर लोकसभा क्षेत्र से 4 हजार 849 डाक मतपत्र प्राप्त हुए हैं।

                   

Back to top button
close