अंकिता हत्याकांड की निष्पक्षता से त्वरित जांच हो, आरोपी बख्शे न जाएं

जयपुर: राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने उत्तराखंड में युवती अंकिता भंडारी की हत्या की घटना पर दुख जताते हुए शनिवार को उत्तराखंड सरकार से मामले की त्वरित जांच कराने और पीडि‍त परिवार को न्‍याय दिलाने की मांग की.गहलोत ने घटना को बेहद निंदनीय और दुखद बताया. उन्होंने ट्वीट किया, उत्तराखंड के ऋषिकेश में 19 वर्षीय युवती अंकिता भंडारी की हत्या बेहद निंदनीय और दुखद है.जैसा कि खबरें आ रही हैं भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) नेता के पुत्र द्वारा युवती पर जिस रूप में दबाव बनाया गया और फिर उसकी जघन्य हत्या की गई, उसे लेकर लोगों में बेहद आक्रोश है. गहलोत ने कहा  कि उत्तराखंड की भाजपा सरकार से मेरी मांग है कि घटना की निष्पक्षता से त्वरित जांच हो, आरोपी बख्शे न जाएं और पीड़ित परिवार को न्याय मिले.

उल्‍लेखनीय है कि उत्तराखंड के पौड़ी जिले के यमकेश्वर क्षेत्र में एक रिजॉर्ट से पांच दिन पहले संदिग्ध परिस्थितियों में लापता 19 वर्षीया अंकिता भंडारी का शव एक नहर से बरामद हुआ है. उसकी हत्या के आरोप में शुक्रवार को एक भाजपा नेता के रिजॉर्ट संचालक पुत्र और दो अन्य कर्मचारियों को गिरफ्तार किया गया है. पौड़ी के श्रीकोट की रहने वाली अंकिता भोगपुर क्षेत्र में वनतारा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के तौर पर काम करती थी. वह 19 सितंबर को लापता हो गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *