लिपिक नेता ने कहा..सरकार ने किया हताश..एरियर्स, महंगाई भत्ता का करे भुगतान..अन्य राज्यों ने दिया तोहफा

बिलासपुर—-लिपिक कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष सुनील यादव ने सरकार पर कर्मचारियों का मनोबल तोड़ने का आरोप लगाया है। सुनील यादव ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि उम्मीद थी कि सरकार त्योहार से पहले पड़ोसी राज्य की तर्ज पर एरियर्स और महंगाई भत्ता देने का एलान करेगी। लेकिन निराशा हाथ लगी है।जिला अध्यछ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ नेता सुनील ने प्रेस नोट जारी कर सरकार पर कर्मचारियों का मनोबल तोड़ने का आरोप लगाया है। सुनील ने बताया कि  छ्तीसगढ़ मे कर्मचारी कल्याण निमित शासन को बढञकर फ़ैशला लेने की जरूरत है। जबकि कर्मचारियों ने प्रदेश सरकार का ध्यान आकृष्ट करने अधिकारी कर्मचारियों ने एकजुट होक  दो दिवसीय आंदोलन भी किया। उम्मीद थी कि दीपावली के पहले सरकार कर्मचारियों की मांग को जरूर पूरा करेगी। लेकिन सरकार ने पूरी तरह से निराशा किया है। CGWALL के WhatsApp NEWS ग्रुप से जुडने के यहाँ क्लिक कीजिये
 
         सातवे वेतनमान की किस्त की राशि और केंद्र सरकार की तरह महंगाई भत्ते की बढ़ी दरो से कर्मचारियों को भुगतान और  अंतर राशि भुगतान के आदेश को लेकर कर्मचारी आशान्वित थे। लेकिन सरकार के रूख से कर्मचारियों में मायूसी हुई है। दो दिन बाद दीपावली का पर्व है। लेकिन कर्मचारियों में उत्साह की जगह निराशा और हताशा का वातावरण है।
 
                 सुनील ने जानकारी दी कि पढोसी राज्य राजस्थान में शासन ने महंगाई भत्ते के साथ साथ एरियर्स का भुगतान किया है। इसी तरह ओड़िशा सरकार ने भी बढ़े दरो से भुगतान कर कर्मचारियों को कोरोना काल में देने काम किया है। जाहिर सी बात है कि छत्तीसगढ़ के कर्मचारियों को कुछ इसी तरह की उम्मीद थी। 
 
                सुनील ने दोहराया कि अन्य राज्यो की ही तरह प्रदेश के कर्मचारियों को राहत देने सरकार जल्द से जलद सातवे वेतन मान की किश्त की भुगतान करे। बढ़े दर से महंगाई भत्तेा और  अंतर की राशि भीयोहारी सीजन में  भुगतान कर कर्मचारियों की हताशा को सरकार दूर करे।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *