सीएम के पिता नन्दकुमार बघेल आगरा से गिरफ्तार ..15 दिन के लिए भेजा गया जेल..पेश नहीं किया जमानत का आवेदन

बिलासपुर—रायपुर पुलिस ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल को गिरफ्तार किया है। नन्दकुमार बघेल को रायपुर पुलिस ने जनक कुमार हिड़को के कोर्ट में पेश किया था। इस दौरान नन्दकुमार बघेल ने जमानत आवेदन पेश नहीं किया। इसलिए कोर्ट ने नन्दकुमार बघेल को 15 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया । बघेल को अब 21 सितंबर तक सलाखों के पीछे रहना होगा।

              जानकारी देते चलें कि नन्दकुमार बघेल को ब्राह्मणों के खिलाफ कथित अपमानजनक टिप्पणी को लेकर गिरफ्तार किया गया है। बघेल के खिलाफ रायपुर स्थित डीडी नगर थाने में आईपीसी की धारा 505 और 153 (क) के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था।

              मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल को रायपुर पुलिस ने आगरा से गिरफ्तार किया है।  नंदकुमार बघेल ने एक वर्ग विशेष के खिलाफ टिप्पणी की थी। इसके बाद समाज विशेष ने बघेल के खिलाफ अलग-अलग थानों में शिकायत की थी।

                    बताते चलें कि मामला सामने आने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि नंदकुमार बघेल पर इसलिए कार्रवाई नहीं होगी, क्योंकि वे मुख्यमंत्री के पिता हैं। स्पष्ट करना चाहता हूं कि सरकार सभी को एक दृष्टि से देखती है। उनके पिता नंदकुमार बघेल से उनके वैचारिक मतभेद शुरू से हैं। यह बात सभी को पता है। हमारे राजनीतिक विचार और मान्यताएं भी बिल्कुल अलग अलग हैं। एक पुत्र के रूप में मैं उनका सम्मान करता हूं, लेकिन एक मुख्यमंत्री के रूप में उनकी किसी भी ऐसी गलती को माफ नहीं किया जा सकता। फिर चाहे वो मुख्यमंत्री के 86 साल के पिता ही क्यों न हो।

क्या है मामला

        बताते चलें कि पिछले दिनों सामाजिक कार्यकर्ता नंद कुमार बघेल उत्तरप्रदेश दौरे पर थे। लखनऊ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए बघेल ने कहा था कि जिसका वोट, उसी की सरकार। उन्होंने आगे कहा कि ब्राह्मण विदेशी हैं, जिस तरह अंग्रेज यहां से गए, एक दिन वह भी जाएंगे। ब्राह्मण सुधर जाएं, या तो जाने के लिए तैयार रहें। ब्राह्मणों से इसलिए नाराजगी है, कि वह विदेशी हैं। हमारे सारे अधिकार छीन रहे हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *