कलेक्टर ने बच्चों से पूछे अंग्रेजी की क्लास में टेंस पर सवाल,अनुपस्थित शिक्षकों की कटेगी तनख्वाह

जांजगीर-चांपा/ टेंस बढ़िया, तो समझ लो भविष्य बढ़िया यह बात कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय केरा स्कूल निरीक्षण के मौके पर कही। निरीक्षण के दौरान जब कलेक्टर केरा के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पहुंचे तो वहां अंग्रेजी की क्लास चल रही थी। अंग्रजी की क्लास में कलेक्टर ने बच्चो से टेंस के बारे में पूछा कलेक्टर ने बच्चों से एक वाक्य दिया उसका टेंस अंग्रेजी अनुवाद करने को कहा, बच्चों ने जब बखुबी उसका उत्तर दिया तो कलेक्टर बहुत खुश हुए।

कक्षा 6वीं की छात्रा कुमारी मुस्कान की प्रशंसा करते हुए कलेक्टर ने पेन दिया। उन्होंने कहा स्पोकन इंग्लिश के लिए टेंस का ज्ञान होना बहुत जरूरी है। टेंस का ज्ञान पा लिया तो आधे अंग्रेजी में समस्या नहीं होगी। साथ ही कलेक्टर सिन्हा ने शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय केरा में 21 छात्र-छात्राओं को जाति प्रमाण पत्र वितरण किये। उन्होंने राजस्व अधिकारी एवं शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए कि छात्र – छात्राओं का जाति प्रमाण पत्र बनाया जाए।  जिससे उन्हे किसी प्रकार की समस्या ना हो।

ग्रामीणों की बहुप्रतिक्षित मांग होगी पूरी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र केरा राज्योत्सव के अवसर पर होगा प्रारंभ
      कलेक्टर ने निर्माणाधीन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र केरा का निरीक्षण किया। शीघ्र कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। राज्योत्सव के अवसर पर अस्पताल आरंभ होगा 2 करोड़ 17 लाख की लागत से निर्मित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र केरा। कलेक्टर ने वेंटिलेशन, बिजली व्यवस्था,  अस्पताल में पदस्थ स्टॉफ की जानकारी ली। उन्होंने वेंटिलेशन व्यवस्था पर जोर देते हुए शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। इस दौरान ग्राम पंचायत केरा के जनप्रतिनिधियों सहित ग्रामीणों ने कलेक्टर का अभार व्यक्त करते हुए कलेक्टर साहब खुद आये और अस्पताल का निरीक्षण कर और जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। हमे विश्वास है कि शीघ्र हमारे गांव में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र आरंभ होगा। ग्राम केरा में आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने रेडी टू ईट सहित अन्य पोषण आहार की जानकारी ली और केंद्र में बच्चों को समय पर भोजन देने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने शासकीय प्री-मैट्रिक अनुसूचित जाति कन्या छात्रावास केरा का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने छात्रावास अधीक्षिका को छात्रावास में रहने, स्टोर रूम के रख रखाव, सीसी कैमरे की स्थिति, भोजन की गुणवत्ता, स्वास्थ्य परीक्षण की स्थिति, विद्युत व्यवस्था की जानकारी ली।

अनुपस्थित शिक्षकों के वेतन काटने के निर्देश
      बेहतर एवं गुणवत्तायुक्त शिक्षा उपलब्ध कराने कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा द्वारा समय-समय पर शालाओं का औचक निरीक्षण किया जाता है। इसी परिप्रेक्ष्य में कलेक्टर ने शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय लोहर्सी एवं शासकीय माध्यमिक विद्यालय मिस्दा के निरीक्षण के दौरान क्रमशः 5 और 1 शिक्षक अनुपस्थित मिले। कलेक्टर ने शिक्षकों की अनुपस्थिति पर नाराजगी जताते हुए अनुपस्थित शिक्षकों के वेतन काटने के निर्देश दिए।

प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र राहौद में व्यवस्था एवं साफ-सफाई की कलेक्टर ने की प्रशंसा
      हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर राहौद के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने वहां उपस्थित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से दवाई की स्थिति, मरीजों की संख्या, डिलीवरी की स्थिति, स्टाफ की संख्या की जानकारी ली। कलेक्टर ने हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर राहौद की सुव्यवस्था, साफ-सफाई देखकर प्रसन्न हुए तथा वहां स्टाफ की प्रशंसा की एवं ऐसे ही कार्य करने कहा।

महात्मा ज्योतिबा राव फूले शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय डोंगाकोहरौद के प्राचार्य को कलेक्टर ने किया पुरस्कृत
     महात्मा ज्योतिबा राव फूले शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय डोंगाकोहरौद के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री सिन्हा ने शिक्षकों की उपस्थिति, साफ-सफाई, शौचालय, लैब का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जब कलेक्टर पहुंचे तो वहां क्लास चल रही थी, उन्होंने क्लास में बच्चों से सवाल पूछा, जम्मू कश्मीर की राजधानी क्या है?, मिजोरम की राजधानी क्या है?, भारत की सविधान कब लागू हुआ? जिसका वहां के छात्रों ने बखूबी उत्तर दिया। कलेक्टर ने सभी छात्र-छात्राओं से ताली बजावाकर सही उत्तर देने वाले छात्रों का उत्साहवर्धन किया।

अंत में प्राचार्य को स्कूल की अच्छी व्यवस्था, साफ-सफाई, शौचालय, लैब के सुव्यवस्था के लिए उपहार स्वरूप पेन दिया। महात्मा ज्योतिबा राव फूले शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय डोंगाकहरौद का उन्नयन स्वामी आत्मानंद हिन्दी माध्यम स्कूल के रूप में होगा। साथ ही कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केन्द्र का भी निरीक्षण किया और आवश्यक निर्देश दिए। स्वामी आंत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल पामगढ़ का कलेक्टर ने अवलोकन किया। उन्होंने मंच मे शेड, किचन शेड, लैब की व्यवस्था एवं प्रयोगशाला के लिए प्लेटफार्म शीघ्र बनाने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने किया गिरदावरी का निरीक्षण
      ग्राम केरा में कलेक्टर श्री सिन्हा ने राजस्व अधिकारियों के साथ गिरदावरी रिपोर्ट की जांच की। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों से कहा कि गिरदावरी का कार्य गंभीरता से करें। गिरदावरी रिपोर्ट में खेत के मेढ़ के वृक्ष, धान के अलावा लगाए गए अन्य फसल, डायवर्टेड भूमि, मुख्यमंत्री वृक्षारोपण योजना के तहत चिन्हांकित भूमि का स्पष्ट उल्लेख किया जाय। उन्होंने संबंधित तहसीलदार, आरआई, पटवारी  से कहा कि गिरदावरी का कार्य महत्वपूर्ण है इसे शीघ्र पूरा करें। कलेक्टर ने कहा कि गिरदावरी में धान के रकबा का स्पष्ट उल्लेख होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.