हमार छ्त्तीसगढ़

प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टरों को कलेक्टर सिन्हा ने लोक सेवक की जिम्मेदारी बताई

जांजगीर-चाम्पा/ लोक सेवक पब्लिक सर्वेंट होते हैं। जनता के हितों को ध्यान रखकर, कानून के दायरे में कार्य करना ही लोक सेवक का कर्तव्य है। एक अच्छे लोक सेवक की यह पहचान भी होनी चाहिए कि वह विपरीत परिस्थितियों में सूझबूझ के साथ निर्णय ले सकें। गुस्सा या आक्रोश दिखाने के बजाय संयम व संतुलन का परिचय देते हुए चुनौतीपूर्ण कार्यों को आसान बना सकें। बड़े पदों पर आने के बाद आपकी व्यक्तिगत छवि भी मायने रखती है, इसलिये बुद्धिमान होना अच्छी बात है, लेकिन ईमानदार और कर्तव्यनिष्ठ होना और भी अच्छा है। यह कहते हुए कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने प्रदेश भर के भ्रमण पर निकले राज्य के प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टरों को आज जाजंगीर-चाम्पा जिला आने पर प्रशासनिक गतिविधियों के बेहतर संचालन की सीख दी।

कलेक्टर सिन्हा ने प्रशिक्षु कलेक्टरों से परिचय प्राप्त करने के बाद उनसे प्रशासनिक सेवाओं की रूचि के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने समय के साथ प्रशासनिक सेवा तथा लोक सेवकों की जिम्मेदारी में परिवर्तन होने की बात कहते हुए बताया कि नवाचार और अच्छे कार्यों की सभी जगह प्रशंसा होती है। छत्तीसगढ़ बहुत बड़ा राज्य नहीं है। छोटे-छोटे जिले बन रहे हैं। अन्य राज्यों और जिलों की अपेक्षा यहां कार्य करना सहज और सरल तो है ही, इसके साथ ही बेहतर कार्य कर अपना अलग पहचान भी बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कार्यपालिक लोक सेवक का कोइ्र जाति, धर्म या क्षेत्र नहीं होता। इसलिए कोशिश होनी चाहिए कि हम पारदर्शी और ईमानदारी से कार्य करें। कलेक्टर ने कहा कि आपका पद ही आपका सम्मान है। आप पर सभी की नजर है। कोई ऐसा काम न करें कि जो विपरीत हो। किसी प्रकार की गड़बड़ी आपका पीछा नहीं छोड़ेगी, आपके आने से पहले आपकी सही व गलत की छवि लोगों के पास पहुच जायेगी। आप जिस पद में है, वहां न्याय दिखना ही नहीं, होना भी चाहिए। उन्होंने किसी भी कार्य को तनाव लेकर नहीं करने और असमंजस की स्थिति में अंतरात्मा की आवाज सुनने की बात कही। कलेक्टश्र श्री सिन्हा ने सभी प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टरों को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आप सभी छत्तीसगढ़ के हैं और यहां के विषय में भलीभांति जानते समझते हैं, इसलिए जब फील्ड पर जाएं तो अच्छे व्यवहार, उत्साह, उमंग के साथ जिम्मेदार लोक सेवक के रूप में काम करें। यहां आपकों बहुत कुछ सीखने को भी मिलता रहेगा। प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टरों को अपर कलेक्टर श्री एस पी वैद्य ने भी प्रशासनिक कार्यशैली की बारीकियों को बताया।

सुनील मिश्रा की पर्यावरण संरक्षण मण्डल से छुट्टी...तिवारी होंगे सदस्य - सचिव
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS