कलेक्टर ने केशकाल घाट में पेंच रिपेयर कार्य का जायजा लेकर गुणवत्ता सुनिश्चित करने के दिये निर्देश,सुरक्षा मानकों का परिपालन करने पर बल

कोंडागांव- कलेक्टर दीपक सोनी ने राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के केशकाल घाट में पेंच रिपेयर कार्य का 7 वें मोड़ से तीसरे मोड़ तक पैदल चलकर गहन निरीक्षण किया और उक्त कार्य को पूरी गुणवत्तापूर्ण ढंग से सुनिश्चित किये जाने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने आम जनता की सुविधा को ध्यान रखते हुए राजधानी रायपुर से बस्तर अंचल को जोड़ने वाली इस महत्वपूर्ण सड़क के पेंच रिपेयर कार्य को निर्धारित समयावधि में पूर्ण करने हेतु अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशानुसार मुख्य सड़कों सहित अंदरूनी सडकों का बेहतर रखरखाव और मरम्मत सुनिश्चित करना है।

इस दिशा में राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के केशकाल घाट में सड़क मरम्मत कार्य को योजनाबद्ध तरीके से तेजी के साथ संचालित किया जा रहा है। पेंच रिपेयर कार्य को तकनीकी एवं गुणवत्ता के मानकों के अनुरूप सुनिश्चित करने नियमित तौर पर मॉनिटरिंग किये जाने 5 उप अभियंताओं की ड्यूटी लगाई गई है। इसके साथ राष्ट्रीय राजमार्ग के कार्यपालन अभियंता एवं अनुविभागीय अधिकारी द्वारा निरन्तर मॉनिटरिंग किया जाये।

उन्होंने इस ओर सम्बन्धित तकनीकी अमले की मरम्मत कार्य के दौरान हरसमय उपस्थिति के साथ मॉनिटरिंग किये जाने जाने अधिकारियों को निर्देश दिये। इस दौरान सड़क मरम्मत में लगे श्रमिकों एवं अन्य कर्मचारियों को सुरक्षा के लिए जैकेट एवं हेलमेट देने कहा।वहीं सड़क मरम्मत कार्य को तय समयावधि में पूर्ण किये जाने के निर्देश दिये।

कलेक्टर श्री सोनी ने इस दौरान केशकाल घाट पर पेंच रिपेयर कार्य का बारीकी से निरीक्षण करते हुए सड़क को गडढेमुक्त बनाने कहा तथा सड़क के मध्य सहित किनारे भी पेंच रिपेयर को बढ़िया करने के निर्देश दिए। उन्होंने सड़क मरम्मत कार्य को नवीन सड़क की तरह बनाने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सड़क नयी दिखे ऐसी होनी चाहिए। चूंकि इस महत्वपूर्ण सड़क के व्यस्तम घाट में बार-बार पेंच रिपेयर करना सम्भव नहीं है।

इसे मद्देनजर रखते हुए जनता की अपेक्षा अनुरूप सुविधा देने अच्छी सड़क मरम्मत करें जो करीब 2 से 3 साल तक चल सके। कलेक्टर श्री सोनी ने केशकाल घाट के तीसरे मोड़ पर ग्राउंड वॉटर की निकासी हेतु प्लान तैयार कर सीमेंट कांक्रीटीकरण किये जाने के निर्देश अधिकारियों को दिये।

वहीं केशकाल घाट के विभिन्न मोड़ पर सुरक्षा दिशा-निर्देश हेतु सूचना पटल, रिफ्लेक्टर मिरर, सड़क पर मार्किंग,संकेतक रेडियम इत्यादि सुनिश्चित किये जाने कहा।
इस दौरान अवगत कराया गया कि राष्ट्रीय राजमार्ग के केशकाल घाट से नीचे खाले मुरवेंड तक पेंच मरम्मत कार्य को तकनीकी एवं गुणवत्ता के मानकों के अनुरूप सुनिश्चित करने के लिए 5 सब इंजीनियरों की ड्यूटी लगायी गयी है। इसके साथ ही इन उप अभियंताओं के कार्यों के पर्यवेक्षण हेतु राष्ट्रीय राजमार्ग के अनुविभागीय अधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गयी है।

भारी वाहनों के लिए वैकल्पिक मार्ग निर्धारित

गौरतलब है कि केशकाल घाट में पेंच रिपेयर कार्य को तेजी के साथ अनवरत संचालित करने के फलस्वरूप विगत 4 नवम्बर से 11 नवम्बर तक केशकाल घाट पर बसों एवं छोटी चौपहिया वाहनों को छोड़कर भारी माल वाहनों के आवागमन को प्रतिबन्धित किया गया है। इन भारी माल वाहकों के आवाजाही के लिए वैकल्पिक मार्ग निर्धारित किया गया है ।

इन भारी वाहनों एवं ट्रकों के द्वारा वैकल्पिक मार्ग का उपयोग सुनिश्चित कराये जाने और आम जनता की सुविधा के मद्देनजर केशकाल घाट से बसों तथा छोटी चौपहिया एवं दुपहिया वाहनों की सुगम आवाजाही की व्यवस्था करने हेतु प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गयी है। कलेक्टर श्री सोनी के सड़क मरम्मत निरीक्षण के दौरान कार्यपालन अभियंता राष्ट्रीय राजमार्ग श्री आरके गुरु, एसडीएम श्री शंकरलाल सिन्हा तथा अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *