कोटा नसबंदी कांड को लेकर कांग्रेस ने खोला मोर्चा,अटल के नेतृत्व में यूथ काग्रेस ने की 5-5 लाख मु्आवजे की माँग

cfa_index_1_jpgIMG-20171229-WA0003बिलासपुर।कोटा पुरूष नसबंदी कांड को लेकर कांग्रेस नें भी स्वास्थ विभाग की लापरवाही के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इस सिलसिले में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री अटल श्रीवास्तव की अगुवाई में युवक कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने जिला कलेक्टर से मिलकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। जिसमें इस मामले में जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई और पीड़ित मरीजों के परिवार को मुआवजा देने की मांग की है।अटल श्रीवास्तव और यूथ कांग्रेस के प्रदेश सचिव जावेद मेमन के साथ कलेक्टोरेट पहुंचे एक प्रतिनिधिमंडल ने ज्ञापने सौंपा है। जिसमें कहा गया है कि दो दिन पहले कोटा के सीएससी में 14 पुरूषों की नसबंदी की गई थी। जिनमें से 4 लोगों की तबीयत बिगड़ गई। तबीयत बिगड़ने के कारण धर्मेंन्द्र श्रीवास, राजकुमार लहरे, केशव प्रसाद और प्रमोद साहू को गंभीर हालत में एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया ।
डाउनलोड करें CGWALL News App और रहें हर खबर से अपडेट
https://play.google.com/store/apps/details?id=com.cgwall

जहां उनकी हालत में सुधार नहीं हो रहा है। इसके पहले अक्टूबर 2014 में पेंडारी में हुए नसबंदी शिविर में लापरवाही के चलते 13 महिलाओँ की मौत हो गई थी। और 84 महिलाओँ की जान आफत में पड़ गई थी। कोटा नसबंदी कांड से एक बार फिर स्वास्थ विभाग की लापरवाही उजागर हुई है। युवक कांग्रेस ने इसकी निंदा करते हुए माना है कि यह स्वास्थ विभाग की लापरवाही है।

ज्ञापन में मांग की गई है कि कोटा में नसबंदी करने वाले चिकित्सकों और दोषी अफसरों पर कार्रवाई की जाए। साथ ही पीड़ित मरीजों के परिवार को 5 – 5 लाख का मुआवजा दिया जाए। उन्होने राज्यपाल से माँग की है कि अन्य स्वास्थ केन्द्रों को आदेश देवें की इस तरह की पुनरावृत्ति न हो। साथ ही कोटा नसबंदी मामले की जाँच कराएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *