मेरा बिलासपुर

कांग्रेस नेता ने वार्ड प्रदर्शन को बताया नाटक..कहा ..काश पहले इतना संवेदशील होते..तो आज शहर का नजारा कुछ और होता..अनिल सिंह ने बताया.. भाजपा की गुटबाजी में बिलासपुर का हुआ बंटाधार

बिलासपुर—-पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के वार्ड में आमसभा अभियान को कांग्रेस नेताओं ने आ़ड़े हाथ लिया है। जिला कांग्रेस प्रवक्ता अनिल चौहान ने कहा कि अमर अग्रवाल की वार्ड स्तरीय धरना प्रदर्शन केवल राजनीतिक स्टंट है। दरअसल पूर्व मंत्री का वार्ड में धरना प्रदर्शन छत्तीसगढ़ विधानसभा नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक के साथ आपसी प्रतिस्पर्धा और गुटबाजी का परिणाम है।
 
                जिला कांग्रेस प्रवक्ता अनिल सिंह चौहान ने कहा कि अमर अग्रवाल नगरीय प्रशासन मंत्री रह चुके हैं। यदि इतनी संवेदनशीलता और सक्रियता पहले रखते तो शायद बिलासपुर प्रदेश के दूसरे दर्जे के जिलों से नहीं पिछड़ता। प्रदेश में रायपुर और बिलासपुर दो महत्वपूर्ण महानगर थे। लेकिन भाजपा शासनकाल में बिलासपुर विकास की रफ्तार में बहुत पिछड़ गया। 
 
              चौहान ने बताया कि अब जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अगुवाई में बिलासपुर का तेजी से विकास हो रहा है। जाहिर सी बीत है कि भाजपा नेताओं की बेचैनी बढ़ गयी है। भूपेश बघेल के निर्देश पर ही नगर निगम की सीमा का सुनियोजित विस्तार किया गया..और अब शहर तेजी से विकास भी कर रहा है।
 
                   कांग्रेस के कुशल नेतृत्वकर्ताओं पर्यटन मंडल अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, संसदीय सचिव और तखतपुर विधायक रश्मि सिंह, महापौर रामशरण यादव, बिलासपुर विधायक शैलेश पांडेय, जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी, शहर अध्यक्ष प्रमोद नायक समेत अन्य जन प्रतिनिधियों ने नगर के सुनियोजित विकास की दिशा में लगातार काम कर रहे हैं। स्थायी और दूरगामी विजन के साथ कार्य योजना बनाकर बिलासपुर को प्रदेश के मानचित्र में नया स्थान दिलाने का प्रयास कर रहे हैं। निश्चित रूस से इसे भगीरथ प्रयास कहा जाएगा। क्योंकि पिछले पन्द्रह सालों में बिलासपुर का विकास पूरी से अवरूद्ध था। 
 
                    अनिल ने कहा कि सीवरेज योजना ने दो दर्जन से अधिक लोगों को मौत के घाट उतार दिया। सैकड़ो लोगों को स्थायी रूप से विकलांगता का शिकार होना पड़ा है। तब पूर्व मंत्री बिलासपुर और बिलासपुर वासियों के लिेए इतनी गंभीरता कभी नहीं दिखाई दी है।
 
                   भाजपा नेताओं की आपसी गुटबाजी और प्रतिस्पर्धा ने बिलासपुर को पूरी तरह से बरबाद कर दिय है। अब जबकि भाजपा प्रदेश प्रभारी ने टारगेट दिया है तो। पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल और नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक मुद्दाविहीन धरना प्रदर्शन और आंदोलन कर रहे हैं।
 
                    जिला प्रवक्ता अनिल सिंह चौहान ने आरोप लगाया कि भाजपा शासन काल में बिलासपुर वासियों को केवल सपना ही दिखाया गया। इसमें अरपा नदी को टेम्स बनाने का वादा लोगों को आज भी याद है। सच तो यह है कि पिछले पन्द्रह सालों में भाजपा सरकार ने पुण्य सलीला अरपा को अन्तः सलीला बना दिया है। भाजपा शासन काल में ही गोकुल धाम, ट्रांसपोर्ट  नगर जैसी योजनाओं को लाया गया। लेकिन ना तो गोकुल धाम ही विकसित हुआ और ना ही ट्रांसपोर्टनगर की सेहत पर ध्यान दिया गया।
 
            बिलासपुर की जनता ने पिछले पन्द्रह साल में  चारों तरफ अराजकता और भू माफियाओं का आतंक देखा है।पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा की रहस्यमय मौत को भी देखा है। पत्रकारों को खुले आम गोलियों से उड़ाया गया। इस बात को आज भी बिलासपुर की जनता भूली नहीं है। साउंड सर्विस वाले को भाजपा सरकार में ही पीट पीट कर मौत के घाट उतार दिया गया।
 
                   कभी धर्मांतरण के झूठे मुद्दे के नाम पर कभी दूसरे नकारात्मक मुद्दों को हवा देकर भाजपा नेता जिले और प्रदेश का माहौल खराब कर रहे हैं। लेकिन जनता सब समझती है।

लॉक अप पहुंचे नाबालिग सेंधमार
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS